मिडिल एज में महिलाओं को होता डिप्रेशन

0
314

नई दिल्ली (ईएमएस)। एक नए अध्ययन में अलग-अलग उम्र में डिप्रेशन और फिजिकल ऐक्टिविटी के संबंध का पता लगाया गया है। कई महिलाओं में मिडिल एज डिप्रेशन देखा गया है। इस स्टडी में 45 से 69 साल की 1100 से ज्यादा महिलाओं को शामिल किया गया। इनमें से 15 पर्सेंट महिलाओं ने कहा कि उन्होंने डिप्रेशन का सामना किया है। इनमें से ज्यादातर महिलाएं मिडिल एज की थीं। बता दें कि यह स्टडी ‘जर्नल ऑफ नॉर्थ अमेरीकन मेनोपॉज सोसायटी’ में छापी गई है। डिप्रेशन के कारण हार्ट डिजीज का खतरा बढ़ जाता है और लाइफ क्वॉलिटी पर भी असर पड़ता है। इसलिए वैज्ञानिकों ने डिप्रेशन के कारणों को ढूंढना शुरू किया जिनको सुधार कर इसे रोका जा सके। स्टडी में फिजिकल ऐक्टिविटी और डिप्रेशन का संबंध देखा गया। इसमें देखा गया कि शरीर का ऊपरी हिस्सा अगर कमजोर है जैसे हाथों की कमजोर पकड़ आदि डिप्रेशन का रिस्क बढ़ा देते हैं। मालूम हो कि महिलाओं के ऊपरी शरीर और निचले शरीर में कमजोरी मिडल एज में डिप्रेशन का कारण बन सकते हैं। एक हालिया स्टडी में यह बात सामने आई है। पहले भी कई स्टडी में डिप्रेशन को कई बातों से संबंध होने का पता चला है। मिडिल एज डिप्रेशन का संबंध कई चीजों से है। इससे पहले भी कहा गया था कि महिलाओं में फिजिकल ऐक्टिविटी की कमी की वजह से भी डिप्रेशन होता है।