Current Crime
दिल्ली देश

अयोध्या में राम मंदिर न्यास द्वारा भूमि खरीद मामले को अदालत में ले जाऊंगा: संजय सिंह

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने कहा कि वह अयोध्या में राम मंदिर न्यास द्वारा खरीदी गई भूमि की प्रक्रिया में कथित भ्रष्टाचार के मामले को अदालत में ले जाने की तैयारी कर रहे हैं। सिंह ने कहा, मैंने भ्रष्टाचार का खुलासा करने के बाद केंद्र और भाजपा का तीन दिन तक इंतजार किया कि वह मामले में कार्रवाई करें। मुझे समझ में आ गया है, कि भाजपा प्रॉपर्टी डीलरों में विश्वास रखती है न कि भगवान राम के ऊपर। मैं मामले को अदालत में लेकर जाने की तैयारी कर रहा हूं।

सिंह ने आरोप लगाया कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के महासचिव चंपत राय ने अयोध्या के बाग बैसी गांव में 1.208 हेक्टेयर भूमि 18.5 करोड़ रुपये में खरीदी, जबकि उसकी कीमत दो करोड़ रुपये है। सिंह ने कहा कि इसमें राय का साथ न्यास के सदस्य अनिल मिश्रा ने दिया। सांसद ने दावा किया कि उक्त भूमि को उन लोगों से खरीदा गया था जिन्होंने उस कुछ मिनट पहले दो करोड़ रुपये में खरीदा था। सिंह ने मामले में सीबीआई और ईडी से जांच करवाने की भी मांग की। राय ने इन आरोपों का पूरी तरह खंडन किया है। सूत्रों के अनुसार, राम मंदिर न्यास ने भूमि खरीद विवाद पर अपना स्पष्टीकरण केंद्र सरकार को भेजकर कहा कि न्यास ने जमीन के लिए वर्तमान दर से अधिक मूल्य नहीं चुकाया।

सिंह ने मांग की है कि भाजपा और न्यास के सदस्य करोड़ों हिन्दुओं से माफी मांगें। इस बीच कथित भूमि घोटाले के विरोध में गाजियाबाद में हनुमान मंदिर पर धरने पर बैठे आम आदमी पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया। पार्टी के कार्यकर्ता मनोज त्यागी के अनुसार, धरने पर बैठे कार्यकर्ता हनुमान चालीसा का पाठ कर रहे थे और उन्होंने कोविड-19 नियमों का पालन किया। पुलिस अधीक्षक (प्रथम) निपुण अग्रवाल ने कहा कि प्रदर्शनकारियों को दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने पर गिरफ्तार किया गया। अग्रवाल ने कहा कि उन्हें बाद में निजी मुचलके पर छोड़ दिया गया।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: