Current Crime
अन्य ख़बरें ग़ाजियाबाद

कौन एआईसीसी कर रहा है डैडी की जमीन का एक्सरे

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। कांग्रेस के नेताओं की एक खूबी यह है कि वह विपक्षी दलों के खिलाफ इतनी फील्डिंग नहीं लगाते जितनी अपने दल के नेताओं के खिलाफ लगाते हैं। कांग्रेस के एक एआईसीसी सदस्य हंै। उनकी आदत है कि वह छोटी बात में भी बड़े मायने तलाशने लगते हैं। उन्हें चीजें कुरेदने की आदत है। उनकी इस आदत से सरकारी दफ्तरों के अधिकारी भी परेशान हैं। जिस चीज के पीछे लग जाते हैं तो फिर लगने की मिसाल बन जाते हैं। जब से एआईसीसी मेंबर बने हैं, तब से वैसे भी पॉलिटिकल लिहाज से दिमाग सातवें आसमान पर है। खुद में राष्ट्रीय नेता नजर आने लगा है। एक सार्वजनिक मंच पर चर्चा शुरू हुई और यहां डैडी विरोधी गुट मौजूद था। वैसे तो कांग्रेस में दो डैडी हो गए हैं। इसलिए पता ही नहीं चलता कि कौन से डैडी गुट में कौन-कौन है। अब जब चर्चा शुरू हुई तो कांग्रेसियों ने अपने कल्चर के हिसाब से भाजपा के किसी नेता का शिजरा नहीं खंगाला। वह आदतन अपने ही दल के नेता का शिजरा खंगाल रहे थे। तब एआईसीसी मेंबर ने कहा कि मैं डैडी की जमीन की फरद तलाश रहा हंू। मुझे उनकी जमीन की गड़बड़ी पता चली है। जमीन की फरद निकालने का बीड़ा मैंने उठा लिया है। सबको कौतूहल था कि आखिर एआईसीसी के हाथ ऐसी कौन सी जमीन का मामला लग गया है। बाद में पता चला कि पहले भी ऐसे मामले उठाते रहे हैं। अब एआईसीसी के इस कदम को डैडी की जमीन की फरद को उखाड़ कर उनके फरद लोकसभा चुनाव के मामले को बिगाड़ने से जोड़कर देखा जा रहा है। अब एआईसीसी मेंबर पर सभी की निगाहें हैं कि वह खसरा-खतौनी, फरद से कुछ कमाल करते हैं या नहीं।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: