Current Crime
उत्तर प्रदेश ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

चन्द्रमोहन शर्मा ने जब की 1949 की तस्वीर जारी और कहा- इसलिए सबसे मजबूत बनती है शहर सीट से मेरी दावेदारी

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। चन्द्रमोहन शर्मा भाजपा के सबसे पुराने कार्यकर्ता हैं और उन्होंने एक तस्वीर के जरिये अपने भाजपाई डीएनए का मुलाहिजा पेश किया है और तस्वीर के जरिये बताया है कि भाजपा से शहर सीट पर मेरी दावेदारी सबसे मजबूत है। चन्द्रमोहन शर्मा ने करंट क्राइम से बातचीत में कहा कि यह तस्वीर इस बात की गवाही है कि मेरा परिवार कब से भाजपाई है। उन्होंने कहा कि जब सबसे पहले जनसंघ होता था हम तब से भाजपाई हैं। 71 वर्षों से मेरे परिवार के खून में भगवा डीएनए दौड़ रहा है। जिस तस्वीर का जिक्र हो रहा है उसके बारे में उन्होंने बताया कि यह उस समय की तस्वी है जब महात्मा गांधी की हत्या के बाद आंदोलन हुआ था और उसमें मेरा परिवार भी शामिल हुआ था।  जीडीए बोर्ड सदस्य चन्द्रमोहन शर्मा ने बताया कि प्रभुदयाल शर्मा दयालु जी मेरे सगे ताऊ थे। शिवनाथ भार्गव दिल्ली गेट पर रहते थे और यह फोटो 1949 की है तब भाजपा नहीं थी और जनसंघ हुआ करता था। जो लोग अपने परिवार के भाजपा डीएनए की बात कहते हैं वह इस तस्वीर से समझ लें कि मेरे परिवार में 71 वर्षो से  भगवा डीएनए दौड रहा है। जब संघ की शुरूआत हुई थी तब से मेरा परिवार संघ कार्यकर्ता है। मैंने आज तक पार्टी नहीं छोड़ी है और बात जब दावेदारी की हो रही है तो फिर मैं उम्मीदवार  हूं और मुझे भी मौका मिलना चाहिए।

वो क्या बतायेंगे जिनकी निर्दलीय चुनाव में हुई जमानत जब्त

चन्द्रमोहन शर्मा मूल भाजपाई है और विषयों पर उनकी पकड़ का कोई सानी नही है। पेशे से अधिवक्ता हैं और वह गाजियाबाद से चुनाव लड़ने वाले सभी नेताओं का पर्चा भरवाते हैं। अब चन्द्रमोहन शर्मा की इच्छा खुद अपने चुनाव का पर्चा भरने की है। वह भाजपा में विभिन्न पदों पर रहे हैं और अब जब उन्होंने अपना भगवा डीएनए बताया है तो उन्होंने बिना नाम लिए उन चेहरों पर भी निशाना साधा है और कहा है कि मेरे भगवा डीएनए का उन चेहरों को क्या पता जो पार्षदी का चुनाव भी निर्दलीय लडे और अपनी जमानत तक नहंी बचा पाये थे। वो लोग खुद को नेता मानते हैं जिनकी जमानत जब्त हुई। मेरा पूरा परिवार संघ से है और मैंने आज तक कभी भी पार्टी नहीं छोड़ी है। राजनीति में टिकट और पद से ज्यादा बड़ी चीज पार्टी के प्रति आस्था और विचारधारा होती है। लेकिन इतना जरूर कहूंगा कि पार्टी को आस्था और विचारधारा वाले चेहरों को मौका देना चाहिए।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: