एचटीसी का ब्लॉकचेन-आधारित एक्सोडस फोन इसी माह फेस्टिव सेल में ई-कॉमर्स कंपनियों ने की 15 हजार करोड़ की बिक्री रिलायंस इंडस्ट्रीज की हैथवे और डेन को खरीदने की तैयारी एथेनॉल पर सरकारी समर्थन की आशा से शुगर स्टॉक्स 20 फीसदी तक उछला दक्षिण कश्मीर में सुरक्षाबलों ने दो जिलों से 30 पत्थरबाजों को किया गिरफ्तार जेएनयू के छात्र नेता कन्हैया कुमार ने एम्स में डॉक्टरों से भिड़े, प्रकरण दर्ज सबरीमाला पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ प्रदर्शन, जंतर-मंतर पर निकला मार्च राहुल और सिंधिया को दिखाया महाभारत के रथ पर सवार, राहुल सारथी- सिंधिया बने अर्जुन अब प्लेन की तरह ट्रेनों में भी होगा ब्लैक बॉक्स गैर भाजपा कार्यकर्ताओं का गठबंधन हो गया, नेताओं में होना बाकी – अजित सिंह
Home / राज्य / राजस्थान / शिक्षा के क्षेत्र में हम दूसरे स्थान पर आये-देवनानी

शिक्षा के क्षेत्र में हम दूसरे स्थान पर आये-देवनानी

जयपुर (ईएमएस)। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि पिछले पौने पांच सालों में राजस्थान की शिक्षा ने एतिहासिक प्रगति हासिल की है। इन सालों में बोर्ड परीक्षाओं का परिणाम 57 प्रतिशत से बढकर अब 80 प्रतिशत तक पहुंचने लगा है। राजस्थान के 14 हजार में से ढाई हजार स्कूलों ने औसत परीक्षा परिणाम से अधिक परिणाम दिया है। इन सभी स्कूलों को फाइव स्टार स्कूल के रूप में सम्मानित किया जा रहा है।
शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे के नेतृत्व में पिछले पौने पांच साल में राजस्थान ने अभूतपूर्व तरक्की की है। शिक्षा के क्षेत्र में हम 26वें से दूसरे स्थान पर आ गए हैं। उन्होंने कहा कि हमारे कार्यकाल में राजस्थान के स्कूलों ने एक नई करवट ली है। अब स्कूलों को स्टार रेटिंग दी जा रही है। औसत परिणाम से ज्यादा परिणाम देने वाले राज्य के ढाई हजार स्कूलों को फाइव स्टार स्कूल के रूप में सम्मानित किया जा रहा है। अजमेर जिले में 99 स्कूलों ने फाइव स्टार रेटिंग हासिल की है। राजस्थान के स्कूलों में 3500 करोड़ रुपए के विकास कार्य कराए गए हैं। अजमेर शहर के स्कूलों में 15 करोड़ के निर्माण कार्य हुए हैं। आजादी के बाद पहली बार स्कूलों में एक साथ इतने काम हुए। देवनानी ने कहा कि विद्यार्थियों के लिए सुविधाओं का तो विस्तार हुआ ही, हमने शिक्षकों की समस्याओं का भी समाधान किया है।

Check Also

वीके सिंह हो सकते हैं नए डीजीपी

भोपाल (ईएमएस)। मध्य प्रदेश सरकार ने प्रभारी डीजीपी के लिए 3 नाम चुनाव आयोग को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *