Current Crime
दिल्ली

वाहन कंपनियों के लिए मिला-जुला रहा सितंबर

नई दिल्ली/चेन्नई| कम ब्याज दर और तेल मूल्य भी वाहन उद्योग में जान फूंकने में नाकाम रहे। (latest news) गुरुवार को जारी आंकड़े के मुताबिक, सितंबर महीने में वाहन कंपनियों की बिक्री के मिले-जुले रहे। देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी की बिक्री साल-दर-साल आधार पर 3.7 फीसदी बढ़ी। आलोच्य महीने में कंपनी ने 1,13,759 कारें बेचीं, जबकि एक साल पहले की समान अवधि में कंपनी ने 1,09,742 कारें बेची थी।

घरेलू बाजार में मारुति की बिक्री 6.8 फीसदी बढ़कर 1,06,083 कारों की रही, जबकि निर्यात इस दौरान हालांकि 26.6 फीसदी गिरावट के साथ 7,676 कारों का हुआ।

ह्युंडई मोटर इंडिया लिमिटेड (एचएमआईएल) की बिक्री साल-दर-साल आधार पर 9.8 फीसदी बढ़ी। आलोच्य महीने में कंपनी ने 56,535 वाहन बेचे, जबकि एक साल पहले की समान अवधि में कंपनी ने 51,471 वाहन बेचे थे।

घरेलू बाजार में बिक्री 21.3 फीसदी बढ़कर 42,505 वाहनों की रही, जो एक साल पहले समान अवधि में 35,041 थी। निर्यात इस दौरान हालांकि 14.6 फीसदी गिरावट के साथ 14,030 वाहनों का हुआ। एक साल पहले की समान अवधि में यह संख्या 16,430 थी।

कंपनी के वरिष्ठ बिक्री एवं विपणन उपाध्यक्ष राकेश श्रीवास्तव ने कहा, “बिक्री 21.3 फीसदी बढ़कर 42,505 वाहनों की हुई और यह किसी भी एक महीने की अब तक सर्वाधिक बिक्री है।”

उन्होंने कहा कि आधुनिक महंगी श्रेणी के ब्रांड क्रेटा, इलाइट आई20, आई20 एक्टिव और ग्रैंड की अधिक बिक्री बढ़ने से गत 17 साल में किसी भी एक महीने में घरेलू बाजार में सर्वाधिक बिक्री दर्ज की गई।

टाटा मोटर्स एवं महिंद्रा की बिक्री गत महीने घट गई।

टाटा मोटर्स की बिक्री दो फीसदी घटकर 45,215 रही, जो एक साल पहले समान अवधि में 46,154 थी।

महिंद्रा एंड महिंद्रा की बिक्री गत महीने पांच फीसदी घटकर 42,848 रही, जो एक साल पहले समान अवधि में 44,911 थी।

महिंद्रा एंड महिंद्रा के वाहन खंड के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रवीण शाह ने हालांकि कहा, “भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा हाल में मुख्य दरों में की गई कटौती से उद्योग में निश्चित रूप से आशा का संचार होगा।”

उन्होंने कहा, “यदि कटौती का लाभ ग्राहकों तक पहुंचाया गया, तो वाहनों की बिक्री बढ़ेगी खासकर आगामी त्यौहारों के महीने में।”

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर्स की घरेलू बिक्री साल-दर-साल आधार पर नौ फीसदी घट गई। आलोच्य महीने में कंपनी ने घरेलू बाजार में 11,401 कारें बेचीं, जबकि एक साल पहले की समान अवधि में कंपनी ने 112,542 कारें बेची थी।

निर्यात में भी इस दौरान गिरावट रही और कंपनी ने 1,252 कारों का निर्यात किया। एक साल पहले की समान अवधि में यह संख्या 1,502 थी।

होंडा कार्स इंडिया की बिक्री 23 फीसदी बढ़कर 18,509 वाहनों की हुई, जो एक साल पहले 15,015 थी।

फोर्ड इंडिया की बिक्री शानदार 63.20 फीसदी बढ़कर 22,428 वाहनों की हुई, जो एक साल पहले 13,742 थी।

दोपहिया वाहन निर्माताओं में हीरो मोटोकॉर्प की बिक्री 0.44 फीसदी बढ़कर 6,06,744 वाहनों की हुई, जो एक साल पहले 6,04,052 थी।

होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया की बिक्री हालांकि दो फीसदी घटकर 4,30,732 वाहनों की हुई, जो एक साल पहले 4,38,479 थी।

यामाहा इंडिया की बिक्री 13 फीसदी बढ़कर 67,267 वाहनों की हुई, जो एक साल पहले 59,325 थी।

दोपहिया और तिपहिया वाहनों की बिक्री गत महीने 1.67 फीसदी घटकर 2,32,775 वाहनों की हुई, जो एक साल पहले 2,36,751 थी।

रॉयल एनफील्ड की दोपहिया वाहन निर्माता कंपनी आइशर मोटर्स की बिक्री शानदान 59 फीसदी बढ़कर 44,491 वाहनों की हुई, जो एक साल पहलले 28,020 थी।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: