Current Crime
उत्तर प्रदेश

किशोर ने धोखे से दादाजी के खाते से निकाले 15 लाख रुपये

आगरा| आगरा में 17 वर्षीय एक किशोर ने अपनी खचीर्ली लाइफस्टाइल को पूरा करने के लिए अपने दादा के बैंक के खाते से कथित तौर पर 15 लाख रुपये अपने ई-वॉलेट में स्थानांतरित कर लिए। आगरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने बताया, “एक 80 वर्षीय सेवानिवृत्त वायुसेना अधिकारी राजा राम ने इस साल मार्च से अगस्त तक पांच महीने के भीतर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उनके खाते से 15 लाख रुपये का अवैध ऑनलाइन लेनदेन के बारे में बताया, जिसके बाद शाहगंज पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 420 के तहत मामला दर्ज किया गया।”

पीड़ित ने दावा किया कि उन्हें न तो कोई फोन आया और न ही किसी ऑनलाइन लेनदेन के बारे में किसी को अपना ओटीपी दिया।

शिकायत को जिला साइबर क्राइम सेल को हस्तांतरित कर दिया गया।

जांच में पता चला कि पैसा राजा राम के खाते से पेटीएम और मोबिक्विक वॉलेट में स्थानांतरित किया गया था, जो एक नकली सिम कार्ड का उपयोग करके बनाए गए थे।

धनराशि बाद में पीड़ित की बहू के खाते में स्थानांतरित कर दी गई और पीड़ित का पोता इन सब में शामिल था।

साइबर क्राइम अधिकारी विजय तोमर के अनुसार, किशोर नियमित रूप से छोटी-छोटी रकम निकाल रहा था। वह अपने दोस्त मोहित सोलंकी(21) जो इसका मास्टरमाइंड था, उसे ओटीपी देने के बाद अपने दादा के फोन से एसएमएस अलर्ट डिलीट कर देता था।

अपराध में शामिल दो अन्य व्यक्तियों की पहचान कृष्णा (24) और आकाश कुमार (20) के तौर पर हुई है। कृष्णा ने पेटीएम और मोबिक्विक खाते बनाने के लिए एक नकली सिम कार्ड प्रदान किया और आकाश ने शराब और मोबाइल फोन खरीदने के लिए कुछ ऑनलाइन लेनदेन को नकद में परिवर्तित किया था।

सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और नाबालिग को भी पकड़ लिया गया है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: