कांग्रेस के झूठे वायदों पर जनता को भरोसा नहीं : नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री ने लालपुर में विशाल आमसभा को किया संबोधित प्रत्येक मतदाता से मतदान करने की जा रही अपील जीका बुखार से बचाव के लिए सावधानी बरतें चिल्ड्रन होम में गार्ड द्वारा बच्चों नशीली दवा देने के मामले में हाईकोर्ट ने शासन से मांगा जवाब पीएम मोदी का खुला चैलेंज पहले 4 पीढ़ियों का हिसाब दो, मैं तो 4 साल का हिसाब दे रहा हूं इमली के बीज में छिपा है चिकनगुनिया का इलाज: आईआईटी वैज्ञानिक गेहूं की बुआई के लिए खेतों में पानी ना होने से संकट में 3 हजार किसान bhopal क्राईम ब्रांच कार्यालय के सामने से कार चोरी तेज रफ्तार कार ने बाईक को मारी टक्कर, एक की मौत दुसरा घायल सिग्नेचर ब्रिज पर निर्वस्त्र होने का वीडियो वायरल
Home / अन्य ख़बरें / बजट के दिन संसद से अनुपस्थित रहेगी तृणमूल
New Delhi: Trinamool Congress MP Derek O'Brien at Parliament in New Delhi, on Aug 3, 2016. (Photo: Amlan Paliwal/IANS)

बजट के दिन संसद से अनुपस्थित रहेगी तृणमूल

कोलकाता| तृणमूल कांग्रेस ने सोमवार को केंद्र सरकार के खिलाफ अपना रुख सख्त करते हुए कहा कि उसके सदस्य बुधवार संसद की कार्यवाही में हिस्सा नहीं लेंगे। वित्त वर्ष 2017-18 का बजट बुधवार को पेश किया जाना है। रोज वैली चिटफंड घोटाला मामले में अपने सांसद सुदीप बंद्योपाध्याय और तापस पाल की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा गिरफ्तारी से अभी भी नाराज तृणमूल कांग्रेस की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, “तृणमूल के सांसद नोटबंदी के खिलाफ बजट सत्र के प्रथम दो दिन संसद में उपस्थित नहीं होंगे। नोटबंदी संसद को बिना विश्वास में लिए लागू की गई और बैंक खातों से निकासी की सीमा पर प्रतिबंध अभी भी लागू है।”

बयान में कहा गया है, “आगामी सत्र में तृणमूल अन्य मुद्दों के साथ ही लोकसभा में पार्टी के नेता और अन्य सांसदों की अवैध गिरफ्तारी का मुद्दा भी उठाएगी, जो स्पष्ट रूप से केंद्र की सत्तारूढ़ पार्टी के अपने अधिकार और सीबीआई के दुरुपयोग व राजनीतिक बदले की भावना का मामला है।”

पार्टी के नेता और सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, “संसद में बजट के दिन उपस्थित नहीं रहने का कारण सरस्वती पूजा भी है, जो बंगाल के लिए एक बड़ा त्योहार है।”

यह रिवाज है कि सरस्वती पूजा के दिन लोग कार्य से दूर रहते हैं और यहां तक कि अपने व्यापार के उपकरण भी नहीं छूते हैं।

ओ ब्रायन ने कहा, “सरस्वती पूजा एक धार्मिक त्योहार से परे है। यह बंगाल का एक सामाजिक-सांस्कृतिक पर्व है।”

Check Also

श्री रामायण एक्सप्रेस सफदरजंग से रवाना, पीयूष गोयल ने दिखाई हरी झंडी

नई दिल्ली (ईएमएस)। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने श्री रामायण एक्सप्रेस सफदरजंग स्टेशन से हरी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *