Current Crime
अन्य ख़बरें ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

अबकी बार सोच से अलग रहेगा मेयर उप चुनाव का नतीजा

करंट क्राइम
गाजियाबाद। मेयर उप चुनाव में इस बार जनता जर्नादन ने जो मत प्रतिशत दिया है उससे राजनीति के जानकार खासे हैरान हैं। कम हुए मतदान ने रिजल्ट को फिलहाल त्रिकोणीय स्थिति में ला खड़ा किया है। राजनीति के जानकारों का कहना है कि पहली बार स्थिति फंसी हुई है, चुनाव में उतरे तीनों प्रत्याशियों को एक समान मत प्राप्त हुए हैं। किसी क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी हावी रहे हैं तो किसी क्षेत्र में सपा प्रत्याशी सुधन रावत के पक्ष में अधिक वोट पड़े हैं तो कई ऐसे भी क्षेत्र रहे हैं जहां पर कांग्रेस प्रत्याशी लालमन सिंह पाल के पंचे पर लोगों ने अपनी सहमति का बटन दवाया है। फिलहाल स्थिति त्रिकोणीय बनी हुई है, प्रत्याशियों की सांसे रिजल्ट को लेकर अटकी हुई हैं। मेयर उप चुनाव में पहली बार में 18.54 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। ट्रांसहिंडन क्षेत्र में वोटो का प्रतिशत कम रहा है और 80 हजार 1 सौ 46 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। इसके अलावा शहर ने भी कम फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। शहर से 95 हजार 4 सौ 80 मतदाताओं ने अपना मत ईवीएम में बटन दवाकर दिया है। इसके अलावा लाइनपार क्षेत्र में 42 हजार 7 सौ 33 मतदाताओं ने ही ईवीएम के बटन को दवाने का काम किया है। मुस्लिम मतदाताओं की बात की जाएं इस बार मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र में कम प्रतिशत ही मतदान देखने को मिला है। मुस्लिम मतदाताओं के कम फीसदी मतदान को लेकर भी तरह तरह की चर्चाएं अपने पक्ष में बताई जा रही हैं। इसके अलावा दलित वोटरों ने भी उम्मीद से ज्यादा वोट डालने का काम किया है। दलित मतदाता किस पक्ष में गये हैं उनकी स्थिति भी स्पष्ट नहीं है। ग्रामीण क्षेत्रों के मतदाताओं ने उत्साहपूर्ण मतदान में भाग लिया, और वोट किस पक्ष में अधिक हुई है इसकी भी स्थिति स्पष्ट नहीं हो
सकी है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: