Current Crime
हेल्थ

डिप्रेशन का सबसे सरल और सस्ता इलाज, इंटरनेट पर जाएं और अपनाएं ये तरीका

वॉशिंगटन (ईएमएस)। वैज्ञानिकों ने पाया है कि आत्मनिर्देशित, इंटरनेट आधारित कई थैरेपी मंच अवसाद को प्रभावी तरीके से कम करते हैं। अमेरिका में इंडियाना विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने 4,781 प्रतिभागियों वाले, पहले के 21 अध्ययनों की समीक्षा की। अध्ययन मेडिकल इंटरनेट रिसर्च में प्रकाशित हुआ है। जिन्होंने मानसिक व्यवहार थैरेपी के साथ उपचार उपलब्ध कराया। सोच के तौर-तरीकों में बदलाव और अवसाद कम करने के लक्षण एवं अन्य मानसिक विकृतियों पर केंद्रित यह एक किस्म की मनोवैज्ञानिक थैरेपी है।
आईयू में कहा,इस अध्ययन से पहले मेरा मानना था कि पिछले अध्ययनों में संभवत: हल्के अवसाद, अन्य तरह की मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से ग्रस्त लोगों और जिन लोगों में आत्महत्या की प्रवृत्ति बेहद कम थी, उन पर फोकस किया गया था। लॉरेंजो लॉसेस ने कहा, मेरे लिये हैरानी की बात यह थी कि मामला यह नहीं था, जबकि विज्ञान यह सुझाव देता है कि इस तरह के ऐप और मंच बड़ी तादाद में लोगों की मदद कर सकते हैं।
आज की इस भाग-दौड़ भरी जिंदगी चाहे हमें पूरे दिनभर लोगों की भीड़ के बीच व्यस्त रखती हो, लेकिन कहीं न कही हमारे भीतर एक शांति लगातार घर करती चली जाती है। क्योंकि हमारी दिनचर्या इतनी व्यस्त हो जाती है कि हमें अपने लिए समय नहीं मिल पाता है। दिनभर हमारे दिमाग में कुछ न कुछ चलता रहता है। जो एक दिन किसी मानसिक बीमारी का रूप ले सकती है जिसे डिप्रेशन कहा जाता है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: