Current Crime
अन्य ख़बरें उत्तर प्रदेश ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

कोविड -19 को लेकर जनपद के प्रभारी मंत्री ने कलेक्ट्रेट के सभागार में अधिकारियों के साथ की बैठक

गाजियाबाद। कोविड -19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए सभी जनपद वासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित करने एवं आर्थिक व्यवस्था को सुदृढ़ करने के संबंध में संबंधित अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश । निर्माण कार्यों को प्राथमिकता दी जाए साथ ही औद्योगिक इकाइयों को पूरी क्षमता के साथ संचालित करें , ताकि जनपद की आर्थिक व्यवस्था सुदृढ़ बन सके । माननीय मंत्री वित्त संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग , उत्तर प्रदेश / प्रभारी मंत्री गाजियाबाद , सुरेश खन्ना की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कोरोना वायरस कोविड -19 की रोकथाम पर बैठक संपन्न हुई । इस अवसर पर माननीय मंत्री जी ने कहा कि वर्तमान परिवेश कोरोना काल की स्थिति है , जिसमें उत्तर प्रदेश में संक्रमण का प्रभाव चिकित्सकीय सतर्कता के चलते कम हुआ है । उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि कोविड़ -19 के चलते अस्पतालों में इमरजेंसी सर्विस को पुन: पूरी क्षमता से शुरू करना है , जिसके लिए उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया कि वह हर हाल में छोटी से छोटी बीमारी का टैली मेडिकल परामर्श के द्वारा इलाज कराना सुनिश्चित करायें एवं चिकित्सकीय इमरजेंसी सेवाओं विशेष ध्यान दें , जिससे हर जरूरतमंद को सही समय पर उपचार मिल सके , जिस पर जिलाधिकारी ने मंत्री को अवगत कराया कि जनपद में टेलिमेडिकल की सुविधा दिनांक 11 मई , 2020 से लागू है , जिसमें 94 कुशल डाक्टर्स द्वारा अबतक लगभग 984 मरीजों का उपचार टेलिमेडिकल सुविधा द्वारा किया जा चुका है , इस पर मंत्री द्वारा संतोष व्यक्त किया गया । मंत्री ने कोविड -19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए सभी जनपदवासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित करने के उद्देश्य से भी संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा – निर्देश प्रदान किए और कहा कि जहाँ पर भी कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति मिल रहे हैं , उन्हें तत्काल प्रभाव से आइसोलेशन करते हुए उनके संपर्क का सर्विलेंस के आधार पर क्वॉरेंटाइन तत्काल प्रभाव से कार्यवाही सुनिश्चित की जाए । वहीं दूसरी ओर आसपास के क्षेत्रों मेंतत्काल सैनिटाइजेशन का कार्य भी प्रमुखता के साथ सुनिश्चित करायें , ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण से सभी जनपद वासियों को सुरक्षित बनाया जा सके । उन्होंने सभी को निर्देशित किया कि हमें न केवल अपने आप को बल्कि अपने आसपास के परिवेश को भी साफ सुथरा रखना है और निरंतर सेनीटाइज करते रहना है । उन्होंने जनपद की आर्थिक व्यवस्था को सुदृढ़ बनाए जाने के उद्देश्य से संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि मनरेगा से संबंधित कार्य एवं निर्माण कार्यों को प्राथमिकता दी जाए , जिससे कि श्रमिकों को ज्यादा से ज्यादा काम मिले , जिससे आमजन की खरीदने की क्षमता बढ़े और इकोनॉमी में सुधार आए । मंत्री ने जनपद में निर्माण सम्बन्धी कार्यों के सम्बन्ध में जिलाधिकारी को निर्देश दिये कि वह समस्त निर्माण सम्बन्धी कार्यदायी संस्थाओं यथा – गाजियाबाद विकास प्राधिकरण , नगर निगम आदि का पर्यवेक्षण करें और निर्माण कार्यों को तेजी से आगे बढ़वायें । इसी प्रकार मंत्री ने बैठक में सभी संबंधित अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि जनपद गाजियाबाद औद्योगिक विकास की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण ‘ जनपद है अत: लॉक डाउन के उपरांत सभी औद्योगिक इकाइयों को पूर्ण क्षमता के साथ संचालित करने की दिशा में विभागीय अधिकारियों के द्वारा शासन एवं सरकार की मंशा के अनुरूप कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए उद्योग इकाइयों का संचालन तत्काल सुनिश्चित कराया जाए , ताकि जनपद की आर्थिक व्यवस्था सुदृढ़ बन सके । उन्होंने इस अवसर पर यह भी कहा कि जो प्रवासी श्रमिक जनपद में मौजूद हैं , उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में संबंधित अधिकारियों के द्वारा विशेष प्रयास करने की अत्यंत आवश्यकता है , ताकि अब कोई भी प्रवासी श्रमिक अपने गृह जनपद के लिए प्रस्थान न करें और उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने की पहल सभी अधिकारियों के द्वारा सुनिश्चित की जाए । आयोजित महत्वपूर्ण बैठक में जिला अधिकारी अजय शंकर पांडेय , वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी , मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल , नगर आयुक्त दिनेश चंद , मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर एनके गुप्ता , मुख्य कोषाधिकारी लक्ष्मी मिश्रा तथा अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे ।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: