Current Crime
उत्तर प्रदेश ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

सोशल मीडिया पर भगवा दल की अम्बेडकर जयंती का छाया रहा रंग

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। भारत की राजनीति में कुछ महापुरुष ऐसे हैं जो सबके हैं, लेकिन इन पर कहीं ना कहीं कॉपीराइज दूसरे दल के लोग अपना मानते हैं। यह बात अनकही होती है लेकिन उसका असर दिखाई देता है। अब यदि पूर्व प्रधानमंत्री चौ. चरण सिंह की जयंती है तो यहां पर रालोद का इफेक्ट अलग ही दिखाई देगा। श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती कांग्रेस वाले नहीं मनाएंगे। इसी तरह अम्बेडकर जयंती पर बसपा की ओर से श्रद्धासुमन अर्पित करने का सैलाब अलग ही दिखाई देगा। मगर इस बार लॉकडाउन के माहौल में 14 अप्रैल को भाजपा ने सोशल मीडिया पर बसपा को टीआरपी के मामले में काफी पीछे छोड़ दिया। सोशल मीडिया पर लॉकडाउन के माहौल में भगवा रंग छाया रहा।
डॉ. भीमराव अम्बेडकर जयंती पर पहले से ही तय था कि सभी वर्गों के लोग डॉ. अंबेडकर जयंती को अपने-अपने घरों में मनाएंगे। लिहाजा यह तय हो गया कि जयंती किस तरीके से मनानी है। भाजपा के राष्टÑीय अध्यख जेपी नड्डा पहले से ही कार्यकतार्ओं को निर्देश दे चुके थे कि उन्हें डॉ. अम्बेडकर जयंती किस तरीके से मनानी है और मास्क वितरण के साथ-साथ लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए जयंती मनानी है। बड़ी बात यह है कि भाजपा जानती है कि सोशल मीडिया अस्त्र को किस तरह से प्रयोग करना है। उन्होंने 14 अप्रैल को इसका सबसे बड़ा मुलाहिजा पेश किया। 14 अप्रैल को उसके कार्यकतार्ओं ने डॉ. अम्बेडकर जयंती के सभी फोटो सोशल मीडिया पर डाले और यहां पर भाजपा लॉकडाउन के माहौल में पूरी तरह से सोशल मीडिया पर छाई रही। खास बात यह भी रही कि भाजपा के नेताओं ने पिछले वर्ष के पुराने फोटो भी निकाले और अम्बेडकर जयंती पर भाजपा एक सजी हुई रणनीति के तहत सामाजिक समरसता का संदेश देने में सफल रही है।
सोशल मीडिया पर डॉ. अम्बेडकर जयंती का भगवा रंग छाया रहा। यहां पर नीले दल से उम्मीद थी लेकिन बसपा के कार्यकतार्ओं ने अम्बेडकर जयंती तो मनाई लेकिन वह उसका ठोस संदेश नहंी दे सकी। उसकी नेताओं और कार्यकतार्ओं की पोस्ट सोशल मीडिया पर भाजपा नेताओं के मुकाबले कम दिखाई दी। यहां पर कांग्रेस और सपा भी पीछे रहे, लेकिन माना ये जा रहा था कि बसपा अम्बेडकर जयंती पर अपने विपक्ष वाले तेवरों के साथ सोशल मीडिया पर आएगी मगर सोशल मीडिया पर तो भाजपा ने भगवा बौछार के साथ इस बात का इजहार कर दिया कि डॉ. अम्बेडकर हमारे हैं और सामाजिक समरसता का संदेश हम दे रहे हैं।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: