पंजाब की लड़ाई पहुंची दिल्ली, राहुल को भेजा गया सिद्धू दंपति का शिकायती वीडियों

0
289

चंडीगढ़ (ईएमएस)। पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और कैबिनेट मंत्री सिद्धू के बीच तकरार बढ़ती जा रही है। नवजोत सिंह सिद्धू और उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू की शिकायत दिल्ली दरबार में पहुंच गई है। इसके लिए बाकायदा पति-पत्नी के बयानों के वीडियो क्लिप भी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के दफ्तर भेज गए हैं। कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि राहुल को इस पर फैसला लेना है। सूत्रों के मुताबिक, पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू के पंजाब कांग्रेस और कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ दिए गए तमाम बयानों की वीडियो क्लिप पंजाब कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी के ऑफिस और कांग्रेस आलाकमान को भेजी गई। इन वीडियो क्लिप के साथ ये भी बताया गया है कि इस तरह के बयान मीडिया और सार्वजनिक मंचों से खुले तौर पर देकर सिद्धू दंपति ने लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस को बेहद ही नुकसान पहुंचाया है।
दरअसल,नवजोत कौर सिद्धू अमृतसर से टिकट चाहती थीं, लेकिन उन्हें टिकट नहीं दिया गया। नवजोत ने कैप्टन अमरिंदर सिंह और पार्टी प्रभारी आशा सिंह पर टिकट काटने का आरोप लगाया था। नवजोत कौर ने कहा था कि कैप्टन साहिब और आशा कुमारी को लगता है कि मैडम सिद्धू सांसद टिकट के लायक नहीं हैं। दशहरा के दौरान जो ट्रेन हादसा हुआ था, उस आधार बनाकर मेरा टिकट काटा गया। नवजोत कौर सिद्धू ने कहा था कि अमरिंदर सिंह हमारे जूनियर कप्तान हैं। राहुल गांधी हमारे सीनियर कप्तान हैं। हमारे जूनियर कप्तान ने कहा है कि वे खुद से 13 सीटें जिता सकते हैं। अगर वह (अमरिंदर सिंह) पंजाब की सभी सीटों पर जीत नहीं दिला पाते हैं तो इस्तीफा दे देना चाहिए। पत्नी के इस बयान का नवजोत सिंह सिद्धू ने समर्थन किया था।