Current Crime
दिल्ली दिल्ली एन.सी.आर

भारत बंद का मिला-जुला असर

शहर में शुक्रवार को भारत बंद का मिला-जुला असर रहा। व्यापारियों ने कुछ घंटों के लिए दुकानें बंद करके विरोध जताया। व्यापारियों ने शांतिपूर्ण तरीके से बंद का समर्थन किया। भारत बंद के समर्थन में व्यापारी सेक्टर-5 में एकत्रित हुए। फिर सेक्टर-27 तक पैदल मार्च निकाला। यहां पर जिलाधिकारी को प्रधानमंत्री के नाम 11 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा।

उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधिमंडल के जिलाध्यक्ष नरेश कुच्छल ने कहा कि पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों ने व्यापारियों के साथ-साथ आम लोगों की कमर तोड़ दी। जीएसटी की दरें 5 व 16 रखी जाए। किसी भी प्रकार का जुर्माना 10 हजार से अधिक नहीं होना चाहिए। जेल की सजा का प्रावधान समाप्त होना चाहिए। पंजीकृत व्यापारियों का उत्तर प्रदेश की भांति 10 लाख का दुर्घटना बीमा हो तथा व्यापारियों को टैक्स कलेक्टर का दर्जा देते हुए पेंशन दी जाए।

उद्योग मंच के अध्यक्ष अजय मल्होत्रा ने बताया कि व्यापारियों पर दुकानें व फर्म आदि को बंद करने के लिए दवाब नहीं बनाया गया। व्यापारियों ने अपनी सुविधा के अनुसार बंद का समर्थन किया। इस अवसर पर महामंत्री सत्यनारायण गोयल, दिनेश महावर, राकेश गुप्ता, मनोज भाटी, मूलचन्द गुप्ता, चंद्रप्रकाश गौड़, सुभाष त्यागी व अभिनंदन भदौरिया आदि लोग उपस्थित थे

पूरे देश से मंडी शुल्क समाप्त किया जाए। सिंगल ब्रांड रिटेल मे 100 प्रतिशत एफडीआई की अनुमति वापस ली जाए। खुदरा व्यापार मे विदेशी निवेश को अनुमति न दी जाए। ऑन लाइन ट्रेडिंग की व्यवस्था समाप्त की जाए। आयकर में छूट की सीमा 5 लाख की जाए। धारा 80सी के अंतर्गत छूट सीमा डेढ़ लाख से बढ़ाकर ढाई लाख की जाए। देश मे पत्थर एवं लकड़ी पर लागू वन विभाग के टैक्स को समाप्त किया जाए।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: