Current Crime
अन्य ख़बरें

इसलिए पुलिस लाईन में आने लगे हैं मोर: दो यूथ आईपीएस ने संभाली है पुलिस लाईन की बागडोर

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। कहा जाता है कि किसी भी काम को करने से पहले विजन बहुत जरूरी होता है। यदि विजन पॉवरफुल है तो फिर कोई सी भी योजना हो वह फलिभूत होती है। युवा अफसर किस तरह से सिस्टम की तस्वीर को बदल रहे हैं, इसका सबसे बड़ा उदाहरण गाजियाबाद की पुलिस लाईन बनी है। पुलिस लाईन की तस्वीर अब बदली है। यहां के मैदान से लेकर सड़क तक इस बात की गवाही दे रही हैं। जिस पुलिस लाईन में कभी पक्षी तक आना बंद हो गये थे आज उस पुलिस लाईन में राष्टÑीय पक्षी मोर की कूक सुनाई देती है। इस पूरी तस्वीर के कैनवास पर जिन्होंने रंग भरे हैं वह दो युवा आईपीएस अधिकारी हैं। गाजियाबाद में तैनात आईपीएस अधिकारी संदीप मीणा और आईपीएस केशव मिश्रा ने पुलिस लाईन की कई समस्याओं का निवारण किया है। संदीप मीणा पुलिस लाईन में व्यवस्था संभाल रहे हैं और केशव मिश्रा एएसपी के रूप में जब पुलिस लाईन आई तो यहां मैदान में हरियाली नहीं थी और सड़कें भी टूटी हुई थी। लेकिन जब दो आईपीएस ने यहां कमान संभाली तो फिर धीरे-धीरे पुलिस लाईन की दशा सुधरने लगी।

लोगों को यह जानकर हैरानी हो सकती है कि आईपीएस केशव मिश्रा और आईपीएस संदीप मीणा के अभियान से पुलिस लाईन में एक लाख पौधे लगाये गये हैं। यह एक लाख पौधे डेढ महीने की अवधि में लगाये गये हैं। इसके अलावा पुलिस लाईन के अस्पताल की काया ही पलट हो गयी है। यह अस्पताल अब सुविधाओं का प्रतीक बना है। पुलिस लाईन में रहने वाले पुलिसकर्मियों के परिजन भी इन दोनों पुलिस अधिकारियों की तारीफ करते नहीं थकते। पुलिस लाईन में लगभग 1000 से भी ज्यादा परिवार रहते हैं और लोग बताते हैं कि जब से यहां इन दोनों आईपीएस अधिकारियों ने कमान संभाली है तब से पुलिस लाईन में रोज एक नया पॉजिटिव परिवर्तन नजर आता है। पुलिस लाईन में सड़क बन रही है और यहां का नाला पूरी तरह साफ कराया गया है। रोशनी पर ध्यान दिया है और अब गोविंदपुरम रोड से जब लोग रात के समय गुजरते हैं तो पुलिस लाईन के मैदान में रोशनी से जगमगाता बोर्ड नजर आता है। पुलिस लाईन के दोनों गेटों से लेकर अन्दर तक रात में लाईटें जगमगाती हैं। यहां पर्यावरण और विकास दोनों का वीजन नजर आता है। लोग थैंक्स टू संदीप मीणा और थैंक्स टू केशव मिश्रा कहने लगे हैं। दोनों आईपीएस अधिकारियों ने पुलिस लाईन को ही एक अलग लुक दे दिया है। यहां एक लाख से ज्यादा पौधे लगे हैं तो यह पेड़ बनेंगे और सुरक्षित पर्यावरण होगा।  नाले की सफाई है तो स्वच्छता का संदेश है। यूथ अधिकारियों ने अपनी वर्किंग से संदेश दिया है कि यदि आपके पास वीजन है तो फिर आप जनता को मुस्कराने और अपनी तारीफ करने का रीजन दे सकते हैं।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: