Current Crime
देश

आतंकवाद को धर्म से नहीं जोड़ा जाना चाहिए : नकवी

नई दिल्ली| केंद्रीय संसदीय कार्य राज्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आतंकवाद को दुनिया की शांति के लिए सबसे बड़ा खतरा करार देते हुए कहा कि इसे किसी धर्म से नहीं जोड़ा जाना चाहिए। ‘शैतानी साम्राज्य की स्थापना के लिए इंसानियत का कत्ल’ शीर्षक वाले अपने ब्लॉग में नकवी ने लिखा है, “पूरी दुनिया में बढ़ती आतंकवादी घटनाओं ने भारत की इस बात को पुख्ता किया है कि आतंकवाद किसी एक देश या क्षेत्र की समस्या नहीं है। आतंक के शैतान ने अपनी मौजूदगी पूरी दुनिया तक फैला दी है और यह विश्व की शांति, स्थिरता और अर्थव्यवस्था के लिए सबसे बड़ा खतरा बन चुका है।”

दुनिया से आतंकवाद और कट्टरपंथ के खिलाफ उठ खड़े होने का आह्वान करते हुए नकवी ने कहा कि किसी को भी ‘राजनीतिक उद्देश्यों के लिए धर्म के चश्मे से’ आतंकवाद को नहीं देखना चाहिए।

उन्होंने लिखा है, “जिस दिन हम आतंकवाद को धर्म से जोड़ देंगे, उसी दिन हम इन आतंकियों के बुरे जाल में फंस जाएंगे। इतनी बर्बरता करने वालों का इस्लाम या मानवता से कोई लेना-देना नहीं है।”

उन्होंने कहा कि जरूरत इस बात की है कि सभी देश, मुस्लिम जगत, धार्मिक नेता, बुद्धिजीवी आतंकवाद और कट्टरपंथ के खिलाफ मिलकर प्रयास करें।

उन्होंने आतंकवाद को शिकस्त देने के लिए समाज, धार्मिक नेताओं, सरकारी एजेंसियों और मीडिया के बीच संवाद तथा तालमेल का भी आह्वान किया।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: