Current Crime
स्पोर्ट्स

रजत में तब्दील हो सकता है योगेश्वर का कांस्य

नई दिल्ली| भारत के दिग्गज पहलवान योगेश्वर दत्त ने लंदन ओलम्पिक-2012 में कांस्य पदक जीता था लेकिन अब उनका यह पदक रजत में तब्दील हो सकता है क्योंकि लंदन में रजत पाने वाले मरहूम रूसी पहलवान बेसिक कुदुखोव पर डोपिंग नियमों के उल्लंघन का आरोप साबित हुआ है। विश्व डोपिंग निरोधी एजेंसी (वाडा) ने हाल ही में 2008 के बीजिंग ओलम्पिक तथा 2012 के लंदन ओलम्पिक के सैम्प्ल को फिर से टेस्ट करने का फैसला किया, जिसके बाद कई सकारात्मक परिणाम सामने आए। फ्लोरेसलिंग डॉट ओआरजी की रिपोर्ट के मुताबिक कुदुखोव ने पुरुषों की 60 किलोग्राम फ्रीस्टाइल स्पर्धा में रजत जीता था लेकिन अब प्रतिबंधित दवा के सेवन के आरोप में उनका यह पदक छिन सकता है। परिणामस्वरूप योगेश्वर का कांस्य रजत में बदल सकता है। हरियाणा के योगेश्वर ने कांस्य पदक के लिए हुए प्लेऑफ मुकाबले में उत्तर कोरिया के री जों म्योंग को हराया था। 33 साल के योगेश्वर अब ओलम्पिक में कुश्ती का रजत जीतने वाले दूसरे भारतीय बन जाएंगे। सुशील ने भी लंदन में रजत जीता था। योगेश्वर को रजत दिए जाने की आधिकारिक घोषणा यूडब्ल्यूडब्ल्यू द्वारा परिणाम के संशोधन के बाद ही की जाएगी। कुदुखोव ने क्वार्टर फाइनल में योगेश्वर को हराया था। वह दो भार वर्गो में चार बार विश्व चैम्पियन रहे हैं और 2007 से 2011 तक प्रत्येक विश्व कप में उन्होंने स्वर्ण जीता है। कुदुखोव 2007 में यूरोपीयन चैम्पियन भी रहे हैं। कुदुखोव का 29 दिसम्बर, 2013 को एक कार दुर्घटना में मौत हो गई थी।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: