Current Crime
देश

श्रीखंड महादेव यात्रा: शिमला और दिल्ली के 3 श्रद्धालुओं की मौत

नई दिल्ली (ईएमएस)। श्रीखंड महादेव यात्रा में 3 श्रद्धालुओं की मौत हो गई है, हालांकि मौत के कारणों का पता नहीं चल सका है। इन ३ श्रद्धालुओं को सांस लेने में दिक्कत हुई और फिर उन्होंने दम तोड़ दिया। भीमवही, नैनसरोवर और कुशां में अलग-अलग जगहों पर इनकी मौत हुई है। प्रशासन हाइपोथर्मिया (शरीर के तापमान में कमी होना) को इनकी मौत की वजह मान रहा है। दो श्रद्धालु दिल्ली के और एक शिमला का रहने वाला है। मृतकों की पहचान उपेंद्र सैनी उम्र 40 साल पुत्र जीवन सैनी निवासी खलीणी शिमला केवल नंद भगत पुत्र गोपाल भगत निवासी ए 577 चोखरी वेस्ट दिल्ली और आत्मा राम पुत्र खाशा राम निवासी गली चेतराम मोजपुर दिल्ली पुलिस स्टेशन शाहदरा के रूप में हुई है।
एसडीएम आनी चेत राम का कहना है कि श्रीखंड महादेव की यात्रा के अंतिम पड़ाव में शनिवार देर रात डेढ़ बजे के करीब तीन लोगों की मौत हुई है। सूचना मिलते ही पुलिस और प्रशासन की टीम ने शवों को बैस कैंप सिंहगाड़ पहुंचा दिया है। सबसे कठिन मानी जाने वाली श्रीखंड महादेव की ऐतिहासिक यात्रा 15 जुलाई से शुरू हुई थी। 25 जुलाई को यात्रियों के अंतिम जत्थे का पंजीकरण किया था। उसके बाद यात्रा बंद कर दी गई थी। ऐसे में प्रशासन पर भी यह सवाल उठता है कि जब यात्रा बंद कर दी गई तो श्रद्धालु कैसे चले गए। इसके लिए पुलिस पोस्ट स्थापित की जानी चाहिए थी ताकि श्रद्धालुओं को यात्रा पर जाने से रोका जा सके। निरमंड के बेस कैंप सिंहगाड़ से यह यात्रा शुरू होती है। श्रद्धालु 18,570 फीट की ऊंचाई पर श्रीखंड चोटी पर बाबा भोले नाथ के दर्शन के लिए 35 किलोमीटर की जोखिम और रोमांच भरी पैदल यात्रा में आठ ग्लेशियर पार करते हैं। सिंहगाड़ में पंजीकरण और मेडिकल चेकअप के बाद ही श्रद्धालु आगे जाते हैं। पिछले वर्ष श्रीखंड यात्रा पर गए कुल 4 श्रद्धालुओं की मौत हुई थी। एक की हृदय गति रुकने और अन्य की ऑक्सीजन की कमी से जान गई थी। एसडीएम चेत सिंह ने श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि बिना मेडिकल चेकअप यात्रा पर न जाएं।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: