Current Crime
विदेश

कोरोना महामारी में बंद हुए स्कूल तो कम उम्र की लड़कियां तेजी से हो रही गर्भवती!

 ज‍ि‍म्बाब्वे।  कोरोना महामारी के बीच ज‍ि‍म्बाब्वे में कम उम्र की लड़कियां तेजी से गर्भवती हो रही हैं। इस देश में कानूनी रूप से शादी के लिए कोई उम्र फिक्स नहीं की गई है जिसके कारण यहां की कम उम्र की लड़कियां तेजी से गर्भवती हो रही हैं। जानकारी के लिए बता दें कि, इस देश में यौन संबंध आम बात है और कोरोना महामारी के तेजी से मामले बढ़ने के कारण स्कूल बंद कर दिए गए है जिसके कारण लड़कियां गर्भवती हो रही है।

शादी के लिए है दो कानून

आपको बता दें कि, ज‍ि‍म्बाब्वे देश में शादी को लेकर दो कानून हैं। पहला विवाह एक्ट और दूसरा ट्रेड‍िशनल मैर‍िज एक्‍ट। विवाह एक्ट के तहत शादी की सहमति के लिए कोई नहीं बताता कि विवाह के लिए न्यूनतम आयु क्‍या होनी चाह‍िए। वहीं ट्रेड‍िशनल मैर‍िज एक्‍ट के तहत  बहुविवाह की अनुमति दी गई है।

कोरोना महामारी बना इन लड़कियों के लिए काल

कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों के बीच यह दिकक्तें बढ़ती जा रही है। वहीं वेबसाइट WION की रिपोर्ट के अनुसार, देश की डेढ़ करोड़ आबादी में मार्च 2020 से लॉकडाउन लागू किया हुआ है जिसके कारण 6 महीने के लिए स्कूलों को पूरी तरह से बंद कर दिया गया। जब मामलों में गिरावट आई तो बीच में स्कूलों को फिर से एक बार खोला गया। जो लड़कियां गर्भवती हो जाती उन्हें या तो ऐसे ही छोड़ दिया जाता। वहीं गर्भ निरोधक की दवाइंया और क्लीनिक न जाने के कारण लड़कियों में गर्भवती होने के मामले तेजी से बढ़ रहे है।

गर्भवती लड़कियां नहीं आ सकती स्कूल

बता दें कि, साल 2020 अगस्त महीने में सरकार ने कानून में बदलाव किया जिसके तहत गर्भवती लड़कियों को स्कूल आने से मना कर दिया गया। बाद में इस पर बदलाव किया गया लेकिन कई छात्राएं स्कूल वापस नहीं गई। विवाह संबधित विधेयक को लेकर ससंद में काफी बहस भी हो रही है और कानूनों को सही से बनाने के लिए 18 वर्ष से कम आयु के किसी भी व्यक्ति के शादी पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। वहीं अगर नाबालिग से शादी या शादी में शामिल होने पर भी मुकादमा चलाया जाएगा।

18 साल से पहले हो जाती है लड़कियों की शादी

बता दें कि,  जि‍म्बाब्वे में लगभग एक तिहाई लड़कियों की शादी 18 साल से कम उम्र में हो जाती है। एजुकेशन से दूर रखकर इन लड़कियों की शादी 15 साल की उम्र में कर दिया जाता है। इसके कारण यौन हिंसा और बच्चे के जन्म में मृत्यु होने की संख्या तेजी से बढ़ जाती है। कम लोगों को खिलाने और पालने से बचने के लिए माता-पिता अपने बच्चों की शादी जल्दी करा देते हैं।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: