Current Crime
ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

सात सौ गरीबों को भोजन वितरण कर कमाया पुण्य लाभ

मुरादनगर (करंट क्राइम)। जीवन काल में अपने किए गए कार्य के बाद रिटायरमेंट होने पर व्यक्ति को जो अनुभूति होती है वह बयां नहीं की जा सकती अपने सेवा काल में व्यक्ति जीवन भर अपने फर्ज को निभाता चला जाता है और एक समय ऐसा आता है जब खुशियों को परिवार व समाज के साथ सेलिब्रेट किया जाता है। वही समय के चक्र के में कोरोना वायरस से चली जंग के दौरान लॉक डाउन में आयुध निमार्णी फैक्ट्री द्वारा चार्जमैन पद से रिटायर्डमेंट होने पर इस पल को गरीबों को भोजन वितरण कर यादगार बनाया। रिटायर्ड मेंट पर पत्नी, बेटी के साथ मिलकर सात सौ गरीब जरूरतमंद लोगों को भोजन कराया। आयुध निमार्णी फैक्ट्री परिसर स्थित टाइप थ्री में रामपाल सिंह परिवार सहित रहते है। परिवार में पत्नी रेखा चौधरी, बेटा आदित्य और बेटी आस्था सिंह है। रामपाल सिंह निमार्णी फैक्ट्री में ईएम सेक्शन में चार्जमैन के पद से रिटायर्ड हुये। रिटायर्डमेंट को यादगार पल मनाने के लिए वह कैंटीन मार्केट में राधे स्वीट के यहां चल रही मानव सेवा समिति की रसोई पर पहुंचे।
उन्होंने कहा कि वह गरीबों की सेवा करना चाहते है, नर सेवा नारायण सेवा का भाव अपने अंदर रखते हुए उन्होंने सात सौ गरीब, जरूरतमंद लोगों के भोजन तैयार कराया। इसके बाद अपनी पत्नी रेखा, बेटी आस्था सिंह, विरेंद्र सिंह, ब्रजेश कुमार के साथ मिलकर गरीबों को भोजन गया। बताते चलें कि रामपाल सिंह अपने जीवन में किसी न किसी की मदद करते रहे है। वह काफी समय से उदयपुर स्थित नारायण सेवा संस्थान में पांच हजार रुपए भेजते आ रहे है। इतना ही नहीं स्कूल में पढ़ने वाले गरीब 50 छात्र, छात्राओं की फीस भी देते आ रहे थे। रामपाल सिंह का कहना है कि वह अपनी सेवा को आगे भी जारी रखेंगे। उनके इस सराहनीय कार्य से लोग उनकी सराहना कर रहे हैं।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: