रेव पार्टी में पकड़े गए थे 192 युवक-युवतियां!

0
247

नई दिल्ली (ईएमएस)। दिल्ली से सटे नोएडा के सेक्टर-१३५ स्थित एक फार्म हाउस में चल रही रेव पार्टी पर नोएडा पुलिस ने देर रात को छापा मारकर १९२ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें फार्म हाउस के मालिक व पांच मुख्य आयोजकों समेत गाजियाबाद पुलिस का एक सिपाही और एक पूर्व विधायक का भतीजा भी शामिल हैं। पार्टी में शराब व अन्य नशीले पदार्थ परोसे जा रहे थे। फार्म हाउस से भारी मात्रा में शराब, बीयर, हुक्के, तंबाकू, लैपटॉप सहित कई आपत्तिजनक सामग्रियां बरामद हुई है। एसएसपी ने स्थानीय पुलिस की भूमिका की जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही एक्सप्रेस-वे कोतवाली के थानाध्यक्ष हंसराज भदौरिया को निलंबित करने के लिए चुनाव आयोग से अनुमति भी मांगी है। एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि एक्सप्रेस-वे पर सेक्टर-१३५ में रेव पार्टी की सूचना मिली। इस पर उन्होंने स्थानीय पुलिस को बगैर सूचना दिए अपनी टीम के साथ फार्म हाउस पर छापेमारी की। पुलिस को देखते ही वहां अफरातफरी मच गई। डीजे पर नशे में धुत होकर नाच रहे युवक-युवतियां भागने लगे, लेकिन पुलिस ने मौके से ३१ युवतियों समेत १९२ लोगों को गिरफ्तार किया है। युवतियों में ८ प्रोफेशनल डांसर शामिल हैं। फार्म हाउस मालिक मंडोली निवासी अमित त्यागी और उसके चार संचालक मित्रों कपिल सिंह, पंकज शर्मा, अदनान व बालेश को भी वहीं दबोच लिया। गिरफ्तार युवक-युवतियों में ज्यादातर दिल्ली, हरियाणा और कुछ नोएडा के हैं।
– शराब परोसन की अनुमति नहीं
आयोजकों ने फेसबुक व अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म के माध्यम से लोगों को इस पार्टी में आमंत्रित किया था। प्रति व्यक्ति १० हजार रुपये शुल्क तय किया था, जबकि युवतियों की निशुल्क एंट्री थी। एसएसपी का कहना है कि पार्टी के आयोजकों के पास शराब परोसने की अनुमति नहीं थी। इस कारण आबकारी अधिनियम के तहत भी केस दर्ज किया है।
– एक्सप्रेस-वे पुलिस की मिलीभगत से चल रही थी रेव पार्टी
यमुना पुश्ते पर बने फार्म हाउस में एक्सप्रेसवे कोतवाली पुलिस की मिलीभगत से रेव पार्टी चल रही थी। एसएसपी को जब रेव पार्टी की सूचना मिली तो वे खुद ही निकल पड़े और अपने साथ जिले के तमाम बड़े अधिकारियों व कोतवाली सेक्टर-३९ पुलिस की टीम को साथ ले गए। एक्सप्रेस-वे कोतवाली की पुलिस को उन्होंने भनक भी लगने नहीं दी। रात भर चले छापे में स्थानीय एसएचओ, चौकी प्रभारी, बीट कांस्टेबल को दूर रखा गया। पुलिस थाने के दो पुलिसकर्मी भी इस पार्टी में शनिवार को शामिल होने आए थे। उन दोनों की पहचान की जा रही है। एसएसपी ने एसपी सिटी को एक्सप्रेस-वे कोतवाली पुलिसकर्मियों की मिलीभगत की जांच के आदेश दिए गए हैं। एसपी सिटी की रिपोर्ट के बाद पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। यह अब तक की नोएडा पुलिस की रेव पार्टी पर सबसे बड़ी कार्रवाई है।
– युवक की एंट्री फीस १० हजार, युवतियों की फ्री
आयोजकों ने युवकों के लिए १० हजार रु की एंट्री फीस रखी थी। जबकि युवतियों की एंट्री फ्री थी। एंट्री फीस के अलावा शराब और हुक्के का चार्ज अलग था। गिरफ्तार युवतियों में ८ मनोरंजन करने वाली थीं जो आयोजकों की तरफ से बुलाई गई थीं। प्रति युवती को १००० रु प्रति इवेंट के हिसाब से पैसे दिए जाते थे। इसके अलावा जो युवतियां ग्राहकों से ज्यादा पैसा पार्टी में खर्च कराती थीं, उन्हें १० फीसदी इवेंट के हिसाब से कमीशन दिया जाता था। पार्टी में कॉलेज छात्र से लेकर कारोबारी तक मौजूद थे। पकड़े गए लोगों में नौकरी की संख्या सबसे अधिक है। पुलिस इनका प्रोफाइल खंगालने में जुटी है। पार्टी में कुछ स्थानीय नेता व उनके रिश्तेदार भी शामिल थे। अधिकतर युवक व युवतियां दिल्ली, हरियाणा व अन्य जिलों के हैं।
– सोशल मीडिया से होती थी बुकिंग
एसएसपी का कहना है कि आयोजनकर्ता सोशल मीडिया पर पार्टी को लेकर पोस्टर पोस्ट करते थे। इसके माध्यम से कस्टमर पार्टी के लिए बुकिंग करते थे। इसमें उन्हें डीजे नाइट्स का हवाला दिया था। वहीं, प्रत्येक टेबल के लिए युवती की भी बुकिंग की जाती थी, जो युवकों का मनोरंजन करती थी।फार्म हाउस में ५० से अधिक पाटिNयां हो चुकी हैं। इसके अलावा दिल्ली व अन्य स्थानों में भी इस तरह का आयोजन ये लोग कर चुके हैं। सैटरडेनाइट के लिए ईको फार्म बेहद मशहूर है। यहां पार्टी करने वाले लोगों को हर तरह की सुविधा आसानी से मिल जाती है। इसलिए यहां पार्टी करने वाले लोगों की अच्छी खासी भीड़ जुटती थी।