म्यूचुअल फंड के कारोबार से रिलायंस कैपिटल बाहर

0
30

मुंबई (ईएमएस)। अनिल अंबानी की समूह वाली रिलायंस कैपिटल (आरकैप) ने अपने म्यूचुअल फंड के कारोबार से अलग करने की घोषणा कर दी है। कंपनी अपनी पूरी हिस्सेदारी अपने साझीदार निप्पोन लाइफ इंश्योरेंस को बेचेगी। रिलायंस निप्पॉन लाइफ एसेट मैनेजमेंट लिमिटेड (आरनाम) में अनिल अंबानी की रिलायंस और जापानी कंपनी निप्पॉन की 42.88 फीसदी बराबरी की हिस्सेदारी है। बाकी में जनता की हिस्सेदारी है। रिलायंस का कहना है कि इसके लिए जापान की निप्पोन लाइफ इंश्योरेंस के साथ एक पक्का समझौता किया है। निप्पोन खरीदने के तुरंत बाद निप्पोन लाइफ ने ओपन ऑफर के जरिए आम निवेशकों से आरनाम के शेयर आम जन के लिए 230 रुपये प्रति शेयर के भाव में खरीदने की पेशकश करेगी। यह कदम कंपनी के पास अधिकतम 75 फीसदी हिस्सेदारी रखने के सेबी के नियामकों के तहत किया गया है।
कंपनी का कहना है कि सौदे के तहत जो दाम तय किए गए हैं उसमें 15.5 फीसदी का प्रीमियम शामिल है, जो सेबी के नियम के अनुसार 60 दिन के लिए दिया गया है। रिलायंस कैपिटल ने कहा है कि इस सौदे से उसे करीब 6,000 करोड़ रुपये मिलेंगे। इस रकम का इस्तेमाल कंपनी का कर्ज चुकाने में किया जाएगा। रिलायंस समूह के चेयरमैन अनिल डी अंबानी ने कहा है कि आरनाम में अपनी हिस्सेदारी बेचना हमारी एक रणनीति का हिस्सा है। अन्य सौदों के साथ इससे मिलने वाली रकम से चालू वित्त वर्ष में अपना कर्ज 50 फीसदी तक घटा सकेंगे।