रामदेव ने दिया बड़ा बयान, कहा कोर्ट में देर हुई तो संसद में जरूर आएगा बिल

0
28
Yog Guru Baba Ramdev during meet the press function at Chandigarh Press Club in Sector 27 of Chandigarh on Sunday, June 12 2016. Express Photo by Kamleshwar Singh *** Local Caption *** Yog Guru Baba Ramdev during meet the press function at Chandigarh Press Club in Sector 27 of Chandigarh on Sunday, June 12 2016. Express Photo by Kamleshwar Singh

लखनऊ (ईएमएस)। अगले वर्ष आने वाले आम चुनावों की दस्तक से केवल कुछ महीने पहले ही अयोध्या विवाद का मुद्दा एक बार फिर तूल पकड़ता दिखाई दे रहा है। इस मुद्दे को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं बीजेपी नेताओं के बयानों के बीच अब बाबा रामदेव का एक बड़ा बयान सामने आया है। बयान देते हुए बाबा रामदेव ने कहा कि संतो- राम भक्तों ने संकल्प किया है कि वह राम मंदिर में अब और देर नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि इस साल देश को शुभ समाचार मिल सकता है। इसी बीच राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष राम विलास वेदांती ने घोषणा की कि दिसंबर में अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू किया जाएगा। दावा करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसा अध्यादेश से नहीं, बल्कि आपसी सहमति से किया जाएगा। हालांकि पूरे मामले पर यूपी के डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य अलग ही राग अलाप से नजर आ रहे हैं।
राम मंदिर विवाद पर बोलते हुए रामदेव ने कहा कि यदि न्यायालय के फैसले में देरी की तो संसद में इसका बिल जरूर आएगा, आना ही चाहिए। यदि रामजन्म भूमि पर राम मंदिर नहीं बनेगा तो किसका बनेगा? संतों एवं राम भक्तों ने संकल्प लिया है कि अब मंदिर निर्माण में देरी नहीं होगी। गौरतलब है कि अयोध्या विवाद की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट द्वारा टालने के बाद से इस मसले पर राजनीति गर्म होती दिख रही है। मोदी सरकार को संघ प्रमुख ने पिछले दिनों राम मंदिर पर अध्यादेश पर भी विचार करने को कहा था। संघ ने यह साफ किया कि फैसला क्या होगा यह सरकार के ऊपर है, परंतु जरूरत पड़ने पर 1992 जैसे आंदोलन करने की बात कही गई है। इन सब के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी बयान दिया कि अयोध्या पर दिवाली तक खुशखबरी देंगे। सूत्रों के अनुसार वह सरयू तट पर श्री राम की भव्य मूर्ति बनाने का ऐलान कर सकते हैं। उल्लेखनीय है कि संघ विचारक और राज्यसभा सांसद राकेश सिन्हा भी इससे पहले अयोध्या में मंदिर निर्माण को लेकर प्राइवेट मेंबर बिल लाने की बात कह चुके हैं।
राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष वेदांती का भी बयान इस बीच सामने आया है। बयान देते हुए उन्होंने घोषणा की कि आपसी सहमति से अयोध्या में दिसंबर से मंदिर निर्माण शुरू किया जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि मस्जिद लखनऊ बनाई जाएगी। दरअसल बीजेपी के पूर्व सांसद वेदांती राम मंदिर के मुद्दे को लेकर अक्सर बयानबाजी करते रहते हैं। इससे पहले भी वह कह चुके हैं कि कोर्ट का आदेश नहीं आया, तब भी राम मंदिर ही बनेगा।