सिद्धू ने कहा कि नवाज की मां के पैर में नाक रगड़ने वाले पीएम मोदी सिखाएगें देशभक्ति जीएसटी का परफॉर्मेंस ऑडिट कर रहा है कैग, शीघ्र जारी करेगा रिपोर्ट स्मोकिंग करते हार्दिक पांडया का वीडियों हुआ वायरल विश्वकप के हर मैच में मानसिक रूप से मजबूत होना होगा: चिंग्लेसाना सिंह रूनी के रिकॉर्ड को हासिल कर पाना संभव :हैरी केन वेदा कृष्णमूर्ति ने रचा इतिहास, ऐसा करने वाली पहली भारतीय आरबीआई ने अप्रैल-सितंबर में 18.66 अरब डॉलर बाजार में बेचे दसवीं फैल लड़के ने राजकोट के युवक की फेसबुक और इंस्टाग्राम किया हेक 21 को युवाओं से रूबरू होंगे भाजपाध्यक्ष अमित शाह आकाशवाणी से आज मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी की भेंटवार्ता का होगा प्रसारण
Home / राज्य / राजस्थान / ग्रीन दीपावली का संदेश दे रहा राजस्थान रत्नाकर दिवाली मिलन मेला

ग्रीन दीपावली का संदेश दे रहा राजस्थान रत्नाकर दिवाली मिलन मेला

नई दिल्ली (ईएमएस)। दिल्ली में अप्रवासी राजस्थानियों को शीर्ष समाजसेवी संस्था राजस्थान रत्नाकर द्वारा नेताजी सुभाष प्लेस पीतमपुरा में आयोजित राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली का सबसे बड़ा दिवाली मिलन मेला ‘ग्रीन दीपावली’ का संदेश दे रहा है। राजस्थान रत्नाकर के चैयरमेन राजेन्द्र गुप्ता ने बताया कि मेला में लगे 125 स्टाल्स में पटाखों की एक भी दुकान नही है। साथ ही मेला में आतिशबाजी का आयोजन भी नही रखा गया है। यह दिल्ली में स्वच्छ पर्यावरण के प्रति हमारी प्रतिबद्धता का प्रतिबिम्ब है। मेला के मुख्य संयोजक रामअवतार शाह का कहना है कि यह मेला स्वच्छ पर्यावरण व साफ सफाई की मिसाल बना हुआ है। पूरे मेला परिसर को ग्रीन कलर की वाल टू वाल कारपेट से कवर कर धूल व गर्दा रहित बनाया हैं। मेले में राजस्थान की हस्तशिल्प वस्तुओं के साथ ही ऑर्गेनिक व्यजंनों का आकर्षण लोगों को प्रभावित कर रहा है।
संस्था के प्रधान रमेश कानोडिया का कहना है कि संस्था पिछले 44 वर्षों से दिल्ली में भव्य दिवाली मिलन मेला का आयोजन करती आ रही है। दो दिवसीय इस भव्य समारोह में हज़ारों लोगों के उमड़ते जन सैलाब के साथ ही विभिन्न क्षेत्रों की जानी मानी हस्तियां भी भाग ले रही है। मेला परिसर को बहुत ही सुंदर व आकर्षक तरीके से सुसज्जित किया है। संस्था के पूर्व प्रधान पुष्पेन्द्र गोयल के निर्देशन में रविवार रात को संस्था की महिला सदस्यों द्वारा आकर्षक फैशन परेड के साथ ही जाने माने कलाकारों द्वारा विभिन्न आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये गए। बैंड वादकों के साथ ही बहरूपिया कलाकारों ने भी लोगों को अपनी ओर आकर्षित किया। मेला स्थल पर बांके बिहारी की भव्य व सुन्दर झांकी, विशाल मंच पर राजस्थानी लोक नृत्यों सहित अन्य मिली जुली आकर्षक व मनोरंजक सांस्कृतिक प्रस्तुतियां, पुरानी दिल्ली के मशहूर व्यंजन एवं चाट के साथ ही साड़ी बाजार,फैशन शो आदि के साथ ही अन्य कई आकर्षक आयोजन जन आकर्षण का केंद्र बने हुए है।

Check Also

कुल्हाड़ी से पुजारी की हत्या कुआं में लाश मिली

भिंड (ईएमएस) ।जिले के मौ कस्बे के द्वारिकापुरी इलाके में सरकारी बाग हनुमान मंदिर के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *