Current Crime
अन्य ख़बरें ग़ाजियाबाद

पुलिसनामा (16/04/2021)

एक टू-स्टार का छलका ड्यूटी पर दर्द

जिले में बृहस्पतिवार को प्रथम चरण का त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव जिले में संपन्न हुआ। इस दौरान कुछ शिकवे शिकायतें और हो हल्ला भी सामने आया। उधर देहात में गंग नहर के पास पुल के नजदीक के एक केंद्र में एक टू-स्टार और एक सिपाही ने कैमरा देखते ही अपना दर्द बयां कर दिया। बोला साहब रात को ना पानी मिला और ना बॉथरुम में बाल्टी। रात से लेकर सुबह जैसे तैसे कटी पर दिन में प्यास से बुरा हाल है। पानी तो मंगा लिया मगर खारा है कैसे प्यास बुझेंगे। इसी बीच एक एजेंट ने पानी की व्यवस्था करवा दी तो जाकर राहत मिली। वैसे दोनों खाकी वालों ने हमारे बूथ से निकलते निकलते कह दिया था साहब लाइन में संदेश कुछ था और हाल कुछ और ही। वहीं कुछ पोलिंग बूथ पर पानी की व्यवस्था को देखकर लग रहा था कि वह सरकारी नहीं निजी ही व्यवस्था नजर आ रही थी। वैसे खाकी ने अपनी ड्यूटी पूरी मेहनत और ईमानदारी से निभाई इसमें कोई शक नहीं है। हर बूथ पर पुलिस और पुलिस अधिकारियों ने तेज धूप, लू और भीड़ के बाद भी अपनी ड्यूटी पर लगे रहे। कुछ इलाकों में तो गड्ढों के बीच अधिकारियों की गाड़ी ऐसे चल रही थी मानो जैसे उसे कोई हिलाकर बढ़ा रहा हो। वैसे जब बूथ पर टू-स्टार और सिपाही ने अपनी कहानी सुनानी शुरु की तो पास के एक सिपाही ने भी सुर में सुर मिलाए और कहा कि पानी के बिना तो जीवन ही नहीं है सर। पानी के लिए भी अगर परेशानी हो जाए तो क्या फायदा। सिपाही जब कुछ और बोलने वाला था तभी टू-स्टार ने कहा साहब ड्यूटी पर हूं समझा करो। वैसे जब बड़े-बड़े आयोजन व लोकतंत्र के कार्यक्रम चलते हैं तो कुछ ना कुछ गड़बड़ी रह ही जाती है। वैसे कहने वालों ने मतदान खत्म होते होते कहना शुरु कर दिया था कि इस बार कुछ कमी तो कुछ मामलों में व्यवस्था अच्छी थी। भले कहीं कहीं पर पीने के पानी को लेकर नाराजगी देखने को मिली हो पर दोपहर के स्वादिष्ट भोजन व उसकी सुंदर नजर आ रही पैकिंग ने सभी के गुस्से व सुबह की कमी को दूर करने का काम कर दिया था। वहीं सुलझे हुए अधिकारियों के मीठे बोल ने भी खाकी के गुस्से व तनाव को शाम तक खत्म करने का काम कर दिया।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: