Current Crime
अन्य ख़बरें ग़ाजियाबाद

नसीम के बयान पर कासिम का पलटवार

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। विगम दो दिनों से महानगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नरेंद्र भारद्वाज के द्वारा मुझे मौहम्मद कासिम प्रधान को नमाज पढ़ने से रोका गया, एक भ्रमित अफवाह है। जो कि बिलकुल झूठी है। मैं इस घटना का पूर्णरूप से खंडन करता हूं। इस अफवाह को फैलाने वाले जिला अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष नसीम खान के खिलाफ पार्टी हाई कमान से कार्यवाही करने की मांग करता हूं। पूर्व में भी नसीम खान द्वारा महानगर अध्यक्ष एवं संगठन पर झूठे एवं भ्रमित आरोप पहले भी लगाये जाते रहे हैं। इससे पार्टी की छवि खराब होती है। प्रदेशाध्यक्ष सिराज मेंहदी द्वारा एक सप्ताह पूर्व कारण बताओं नोटिस जारी किया जा चुका है। महानगर अध्यक्ष नरेंद्र भारद्वाज द्वारा सभी धर्मो का सम्मान किया जाता है वह रमजान के महीने पर सभी मुस्लिम भाईयों द्वारा पार्टी कार्यालय के प्रागंण में नमाज अदा कराई जाती है। जिसमें महानगर अध्यक्ष द्वारा पूरा सहयोग किया जाता है। अत मैं महानगर अध्यक्ष नरेंद्र भारद्वाज पर लगाये गये सभी आरोप निराधार व बेबुनियाद हैं। मैं इसका पुरजोर तरीके से खंडन करता हूं तथा साजिशकर्ता के खिलाफ हाई कमान से कार्यवाही की मांग करता हूं।

पार्टी की छवि को धूमिल कर रहे हैं नसीम: रफीक कुरैशी

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष नसीम खान निराधार भृामक बातों को तूल देकर पार्टी की छवि को धूमिल करने का प्रयास कर रहे है। खबरों में बने रहने के लिए वह ऐसा कुछ कर रहे हैं। 5 मई की मासिक बैठक में कासिम प्रधान के विषय में जो सच सामने आया है वो ये है जो बात मीटिंग में हुई ही नही है उसे मनगढ़त तरीके से पेश कर बढ़ावा दिया गया है। मासिक बैठक की सूचना मुझे मिली थी परन्तु उस दिन में शहर से बाहर था। इस कारण से मीटिंग में उपस्थित नही हो सका, मेने सबंधी विषय की जानकारी सोशल मीडिया के द्वारा प्राप्ति हुई। परन्तु मैंने कई लोगो से जानकारी की उस आधार पर यह सच सामना आया की कासिम प्रधान को नमाज के लिए नही रोक गया था। यह केवल एक अफवाह मात्र थी जिसे मेरे समक्ष खुद कासिम प्रधान ने भी स्वीकार किया। वह बीच बीच मे किसी कार्य से बैठक से उठ उठकर जा रहे थे, उन्हें केवल ऐसा ना करने से महानगर अध्यक्ष ने मना किया था। इसके अलावा जो कुछ सोशल मीडिया पर पेश किया गया है बिलकुल निराधार और सोची समझी साजिश के तहत था।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: