Current Crime
दिल्ली

अनलॉक-3 में होटल और गेस्ट हाउस खोलने को मालिकों की सरकार से गुहार

नई दिल्ली। अनलॉक-3 में दिल्ली के गेस्ट हाउस व होटल मालिकों ने सरकार से होटल और गेस्ट हाउस को खोले जाने की गुहार लगाई है। इस संबंध में अलग-अलग एसोसिएशन द्वारा सरकार को पत्र भी लिखा गया है। मार्च में लॉकडाउन की घोषणा के बाद से होटल व गेस्ट हाउस पर ताला लटका है। गेस्ट हाउस व होटल मालिकों के अनुसार बंदी की वजह से काम-धंधा ठप है। गेस्ट हाउस व होटल की सुरक्षा व परिसर की साफ-सफाई के लिए रखे कर्मचारियों के वेतन भुगतान नहीं हो पा रहा है। बिजली सहित पानी के बिलों के बोझ से देनदारियां बढ़ रही हैं। होटल व गेस्ट हाउस मालिकों ने मार्च 2021 तक के लिए सभी प्रकार की लाइसेंस फीस व अन्य दूसरों शुल्क में रियायत की मांग भी की है। दिल्ली के पहाड़गंज, करोलबाग, राजेंद्र नगर, पटेल नगर, आजादपुर, दक्षिणी दिल्ली, महिपालपुर सहित कई दूसरे इलाकों में छोटे-बड़े गेस्ट हाउस व होटल हैं। इनकी संख्या दो हजार से ज्यादा बताई जाती है। पहाड़गंज में 800 से अधिक गेस्ट हाउस व होटल, करोलबाग में 275, महिपालपुर में 150, दक्षिणी दिल्ली में 150 और बाकी दूसरे इलाकों में भी इतनी संख्या है।दिल्ली होटल एंड रेस्टोरेंट ऑनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष संदीप खंडेलवाल ने कहा कि हम सरकार से अनलॉक-3 में होटल व गेस्ट हाउस खोले जाने की मांग करते है। इस समय बिना काम के बहुत घाटा उठना पड़ रहा है। अगर सरकार अब खोलने की इजाजत देती है तो कम से कम छह महीने उबरने में लग जाएंगे। सरकार से मांग है कि वह एक कमेटी का गठन करे, जिससे होटल व गेस्ट हाउस मालिकों की समस्याओं का समाधान हो सके दिल्ली होटल महासंघ के सचिव सौरभ छाबड़ा का कहना था कि दूसरे राज्यों में भी होटल व गेस्ट हाउस खुलने लगे हैं। तो दिल्ली में अभी तक खोलने की क्यों इजाजत नहीं दी जा रही है। सरकार से मांग है कि वह होटल व गेस्ट हाउस को खोलने की इजाजत दें। इस संबंध में एसोसिएशन द्वारा पत्र भी लिखा जा चुका है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: