Current Crime
स्पोर्ट्स

विदेशी धरती पर आसान नहीं होगा आईपीएल का आयोजन

मुम्बई। भारतीय क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई 19 सितंबर से यूएई में आईपीएल का आयोजन करना चाहता है। इसमें बीसीसीआई के लिए सबसे बड़ी समस्या लॉजिस्टिक को लेकर आने वाली है। फ्रैंचाइजियों ने बीसीसीआई को बता दिया है कि खिलाड़ियों को एकसाथ लाने में तकरीबन तीन सप्ताह लगेंगे, वहीं अगर सबकुछ ठीक रहा तो टीमों को मध्य अगस्त तक यूएई पहुंचना होगा। अधिकतर खिलाड़ियों ने पिछले लगभग 6 महीने से क्रिकेट नहीं खेला है, ऐसे में टूर्नामेंट की तैयारी के लिए उनके पास बहुत ही कम समय रहेगा। एक अनुमान के अनुसार यूएई में टूर्नामेंट होने पर भारत को 1200 हवाई उड़ान की मंजूरी चाहिए होगी। 200 क्रिकेटर, मैच अधिकारी, अंपायर और अन्य अधिकारियों को मिलाकर कुल 400 से 500 लोग होंगे, जिन्हें यूएई ले जाना होगा। ऐसे में न केवल भारत और यूएई की सरकार की मंजूरी की जरूरत होगी, बल्कि क्रिकेटरों, अंपायरों और मैच स्थलों के देशों की भी मंजूरी जरूरी होगी। ऐसे में सभी को एक स्थल पर एकत्र करना और फिर यूएई ले जाना आसान नहीं होगा। इससे पहले भी बीसीसीआई ने आईपीएल का आयोजन विदेशों में किया है, ऐसे में उसे अपने पुराने अनुभवों से लाभ मिलेगा।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: