Current Crime
अन्य ख़बरें उत्तर प्रदेश ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

छात्रावास को कोरोंटाइन सेंटर बनाये जाने का किया विरोध

गाजियाबाद। नंदग्राम स्थित गवर्नमेंट छात्रावास को कोविड-19 एल-1 अस्पताल बनाए जाने को लेकर वहां रह रहे करीब ढाई सौ छात्र संकट में आ गए हैं। छात्र
अपनी समस्या को लेकर वीरवार को सिटी मजिस्ट्रेट से मिले और बताया कि अस्पताल बनने से उनके सामने रहने का संकट खडा हो जाएगा। इतना ही नहीं छात्रों ने बताया कि हॉस्टल में तीन माह से बिजली भी नहीं है। ऐसी गर्मी में छात्र बिना बिजली के ही रहने को मजबूर हैं। छात्रों ने राष्टÑपति के नाम ज्ञापन सौंपा। बता दें कि कोरोना संक्रमण के प्रसार को नियंत्रण करने व संक्रमित मरीजों को भर्ती करने के लिए छात्रावास को कोविड-10 एल-1 केयर सेन्टर के रूप में बनाने के लिए जिला प्रशासन ने उसका अधिग्रहण किया है। जल्द ही इस छात्रावास को सेन्टर के रूप में इस्तेमाल करना शुरू कर दिया जाएगा। छात्रावास को कोविड केयर सेन्टर बनाए जाने के विरोध में छात्र डॉ.बीआर अबंडेकर ज्ञानोदय समिति के पदाधिकारियों के साथ सिटी मजिस्ट्रेट से मिलने पहुंचे और अपना ज्ञापन दिया। छात्रों ने कहा कि अधिग्रहण किए जाने की कोई पूर्व सूचना प्रशासन द्वारा उन्हें नहीं दी गई थी। तत्काल प्रभाव से छात्रावास को खाली करने के निर्देश दिए गए हैं। एकदम से छात्र कहां जाएं इसका जवाब प्रशासन के अधिकारियों के पास भी नहीं है। वर्तमान में हॉस्टल में करीब ढाई सौ छात्र रह रहे हैं। छात्रों ने कहा कि उनके सामने रहने का संकट खडा हो गया है। ज्ञापन देने वालों में सचिव प्रमोद एआर निमेश, महाबीर सिंह, शेषराज भारती आदि छात्र मौजूद रहे।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: