Current Crime
अन्य ख़बरें उड़ीसा

पाक की दुस्साहस हरकतों को सिर्फ मोदी सरकार ही दे सकती जवाब : अमित शाह

कुलिया ।भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने विपक्षी पार्टियों के प्रस्तावित महागठबंधन को बेबस बताते हुए कहा ‎कि आगामी लोकसभा चुनाव के बाद उनकी पार्टी सत्ता में काबिज रहेगी क्योंकि पीएम नरेंद्र मोदी का नेतृत्व पाकिस्तान के किसी भी दुस्साहस को नाकाम कर सकता है और मुंहतोड़ जवाब दे सकता है। शाह ने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा ‎कि देश की गरीबी के लिए नेहरू-गांधी परिवार की चार पीढ़ियों को जिम्मेदार है। ओडिशा के कटक जिले में यहां भाजपा कार्यकर्ताओं की सभा में शाह ने कहा, राहुल बाबा (कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी) के परिवार की चार पीढ़ियां सत्ता में रही, लेकिन देश अब भी गरीबी से जूझ रहा है। वहीं सत्ता में आने के बाद से भाजपा सरकार गरीबों, आदिवासियों, दलितों के विकास और कल्याण के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा कि मोदी को सत्ता में काबिज रखने (आमचुनाव के बाद) के लिए राष्ट्र का मिजाज पूरी तरह स्पष्ट है। उन्होंने ओडिशा की जनता से अपील की कि वे राज्य से भगवा पार्टी के सांसदों को बड़ी संख्या में चुन कर इसका हिस्सा बनें। राज्य में सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजद) पर ‎निशान साधते हुए शाह ने कहा कि केंद्र से काफी पैसा मिलने के बावजूद ओडिशा नवीन पटनायक सरकार की अक्षमता और निष्क्रियता के चलते पिछड़ा हुआ है। कांग्रेस और बीजद को एक ही सिक्के के दो पहलू बताया।
बता दें ‎कि शाह की यह टिप्पणी राहुल गांधी के उस आरोप के बाद आई है जिन्होंने पिछले हफ्ते भुवनेश्वर में हुई रैली के दौरान एक चिट फंड घोटाले के बारे में कहा था कि नवीन पटनायक का रिमोट कंट्रोल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथ में है। उन्होंने कहा, विपक्षी पार्टियों के महागठबंधन के पास न ही सक्षम नेतृत्व है और न ही नीतियां और एजेंडा है फिर भी उनका दावा है कि वे मजबूत सरकार बना सकते हैं। देश को मजबूत सरकार की जरूरत है, न कि मजबूर सरकार की। शाह ने दावा ‎किया ‎कि 26 से ज्यादा राजनीतिक पार्टियां मजबूती से भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) का समर्थन कर रही हैं, शाह ने लोकसभा चुनाव से पहले विपक्ष के प्रस्तावित महागठबंधन का मजाक उड़ाया। भाजपा अध्यक्ष ने जोर देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री हर वक्त देश की सुरक्षा के बारे में सोचते हैं और हमारी सीमाओं को सुरक्षित रखने के लिए सचमुच काम कर रहे हैं, जो ‎कि ‎पिछले चार सालों में देखने को ‎मिला।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: