Current Crime
पश्चिम बंगाल

एक के बाद एक 3 विधायकों ने छोड़ा तृणमूल का साथ, अब शीलभद्र दत्ता ने दिया इस्तीफा

कोलकाता| तृणमूल कांग्रेस को लगातार एक के बाद एक झटका लग रहा है। दिग्गज नेता सुवेन्दु अधिकारी और जितेंद्र तिवारी के इस्तीफा देने के एक दिन बाद अब एक और विधायक ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। त्रिणमूल विधायक शीलभद्र दत्ता ने पार्टी छोड़ दी है। बैरकपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक दत्ता ने भी शुक्रवार को इस्तीफा दे दिया।

सूत्रों के अनुसार, दत्ता ने अपने कार्यालय में लगी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तस्वीर को भी हटा दिया और दीवार पर स्वामी विवेकानंद की तस्वीर लगा दी। उन्होंने राज्य सरकार द्वारा दी गई कार को सरेंडर कर दिया। उन्होंने कहा कि अगर सरकार चाहे तो वह अपना सुरक्षा कवर भी वापस ले सकती है। दत्ता ने तृणमूल सुप्रीमो बनर्जी को अपना त्याग पत्र भेजा। उन्होंने पत्र में लिखा है, “मैं ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस (एआईटीसी) के सदस्य के रूप में, साथ ही साथ पार्टी और उसके सहयोगी संगठनों में मुझे जो पद मिले हैं उनसे तत्काल प्रभाव से इस्तीफा दे रहा हूं।”

पिछले 24 घंटों में पार्टी से इस्तीफा देने वाले दत्ता तीसरे विधायक हैं। दत्ता ने कहा कि वह उन सभी अवसरों के लिए आभारी हैं, जो उन्हें मिले हैं। इससे पहले राज्य की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस को दो बार झटका तब लगा, जब नंदीग्राम के पूर्व विधायक सुवेंदु अधिकारी और पंडाबेश्वर के विधायक जितेंद्र तिवारी ने गुरुवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया।

तिवारी ने आसनसोल नगर निगम के प्रशासनिक बोर्ड के अध्यक्ष पद से भी इस्तीफा दे दिया। उन्होंने उसी दिन पश्चिम बर्धमान में तृणमूल कांग्रेस के जिला अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुब्रत बक्शी को अपना इस्तीफा भेज दिया था।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: