Current Crime
उत्तर प्रदेश ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

अब प्रशासन के पास होगा जिले के हर मरीज का डाटा

सरकारी से लेकर निजी अस्पतालों तक होगी मॉनिटरिंग
गाजियाबाद (करंट क्राइम)। डीएम गाजियाबाद अजय शंकर पाण्डेय अब विभिन्न अस्पतालों में भर्ती मरीजों के लिए नए प्लान के साथ आगे आये हैं। गाजियाबाद के कोरोना संक्रमित मरीज जल्दी से जल्दी ठीक हों इसके लिए जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय ने चिकित्सा विभाग के साथ माईक्रोप्लानिंग तैयार की है और एक-एक कोरोना पेशेंट का रिकार्ड तैयार कराया गया है। अब गाजियाबाद के ईएसआई अस्पताल, जिला संयुक्त चिकित्सालय संजय नगर, संतोष हॉस्पिटल सहित सरकारी या सरकार द्वारा अधिकृत अस्पतालों में मरीजों की विधिवत मॉनिटिरिंग की जा रही है। अस्पताल में सीसीटीवी कैमरे लगाकर जूम एप के माध्यम से मजिस्ट्रेटों को तैनात कर मरीजों की तीमारदारी में कोई कसर नहीं रखी जा रही है। डीएम ने अब प्राईवेट अस्पतालों के लिए भी डॉक्टर एमके सिंह को नोडल अधिकारी नामित किया है। साथ ही इन क्षेत्रों के इन्सीडेंट कमांडर को कोरोना के मरीजों का इलाज हेतु अस्पतालों से समन्वय स्थापित करने को कहा गया है। डीएम ने एक-एक केस की समीक्षा कर अलग-अलग जिलों में इलाज करा रहे उन मरीजों की सूची तैयार कराई है जो गाजियाबाद के हैं। दिल्ली के अस्पतालों में भी गाजियाबाद के संक्रमित मरीज उपचार के लिए भर्ती हैं। अब डीएम ने इन मरीजों की उपचार व्यवस्थाओं का अनुश्रवण करने के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त करे हैं। इन नोडल अधिकारियों में प्रशासनिक अधिकारियों और चिकित्सकों को शामिल किया गया है।

नोडल अधिकारियों को लेना होगा डेली मरीजों का हाल

डीएम द्वारा अब दूसरे जिलों में इलाज करा रहे गाजियाबाद के मरीजों की मॉनिटरिंग के आदेश दिए गये हैं। यह कहा गया है कि नोडल अधिकारी प्रतिदिन इन अस्पतालों में भर्ती गाजियाबाद के मरीजों का हालचाल लेंगे। उनके उत्तम उपचार के सम्बंध में अस्पताल प्रबंधन से समन्वय स्थापित कर जानकारी प्राप्त करेंगे और यदि मरीज को किसी भी प्रकार की कोई परेशानी है तो वह उसका तत्काल निराकरण करायेंगे। गौरतलब है कि गाजियाबाद पहला जिला हैं जहां प्रशासन दूसरे जिलों के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती गाजियाबाद के मरीजों का उपचार करा रहा है।

दिल्ली-नोएडा-मेरठ के लिए ये हैं नोडल अधिकारी

जिला प्रशासन द्वारा नोडल अधिकारियों की नियुक्ति कर दी गयी है और दिल्ली के जितने भी अस्पतालों में गाजियाबाद के संक्रमित मरीजों का उपचार चल रहा है उन सभी के लिए एडीएम प्रशासन को नोडल अधिकारी बनाया गया है। इसके अलावा एसीएमओ डॉ. मुंशीलाल को भी दिल्ली प्रांत का नोडल अधिकारी बनाया गया है। नोएडा के लिए गाजियाबाद जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ. अनुराग भार्गव को नोडल अधिकारी बनाया गया है। यहां पर एडीएम एलए को भी नोएडा जिले तथा उत्तर प्रदेश के अन्य जनपदों के लिए नोडल अधिकारी बनाया गया है। मेरठ जिले के विभिन्न अस्पतालों के लिए एडीएम सिटी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। यहां पर उनके साथ एसीएमओ डॉ. संजय अग्रवाल को भी नोडल अधिकारी बनाया गया है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: