Current Crime
अन्य ख़बरें

अब स्मार्ट सिटी बनाना कोई बहाना मत बनाना

वरिष्ठ संवाददाता (करंट क्राइम)

गाजियाबाद। लोकसभा के बाद विधानसभा और उसके बाद निगम चुनाव में जनता ने प्रबल जनादेश भाजपा के पक्ष में दिया हैं। भाजपा अब देश से लेकर प्रदेश और प्रदेश से लेकर शहर तक सत्ता पर विराजमान हैं। गाजियाबाद की मेयर बन चुकी आशा शर्मा ने चुनाव मेंं गाजियाबाद को स्मार्ट सिटी बनाने का वादा किया था। अब केंद्र में उसकी सरकार है। प्रदेश में उसकी सरकार पूरे बहुमत के साथ है। प्रधानमंत्री उनके हैं, मुख्यमंत्री उनके हैं।
मेयर भाजपा की हैं। सबसे ज्यादा पार्षद भाजपा के हैं। कल तक सपा सरकार के कामो मेंं कमिया निकालने वाले राज्यपाल रामनाईक भी अब योगी सरकार से खुश है और वह भी मूलरूप से भाजपा के ही हैं। देहात में भाजपा का परचम हैं। मोदीनगर में चेयरमैन भाजपा के हैं।
मुरादनगर, खोड़ा, लोनी में भाजपा जीती है। सांसद भाजपा के, विधायक भाजपा के, मेयर भाजपा की और अब लोनी से लेकर मोदीनगर तक भाजपा है। कौशांबी से लेकर शहर के प्रमुख बाजार तक भाजपा है।
एक तरीके से अब स्मार्ट सिटी की रेस से तीन बार बाहर हो चुका जिला गाजियाबाद, अब भगवा दुर्ग बन गया है। यहां से जनता ने जिसे सांसद चुना उसे देश में रिकॉर्ड वोटों से जिताया। जिसे मेयर चुना उसे प्रदेश में रिकॉर्ड वोटों से जिताया। जनता ने अपना भरोसा पूरी तरह भाजपा पर जताया है।
अब भाजपा की जिम्मेदारी है कि वह जनता के भरोसे पर खरा उतरे। यहां भाजपा के मेयर रहते जिला तीन बार स्मार्ट सिटी की दौड़ से बाहर हुआ है। अब भाजपा के सामने बड़ी चुनौती जिले को स्मार्ट सिटी बनाने की है। यहां डंपिंग ग्राउंड बनाना उसके लिए एक बड़ा काम है। अब तक प्रदेश सरकार अन्य दल की होने के कारण इस काम में रोड़े अटक जाते थे। लेकिन अब भाजपा यह बहाना भी नहीं बना सकती। गड्ढा मुक्त सड़के देना निगम का काम है। सरकार देहात से लेकर शहर तक उसकी है। इसके बाद भी यदि सड़कों पर गड्ढे है तो फिर यह जनादेश के साथ बेईमानी होगी। अब स्मार्ट सिटी को बनाना ही होगा। भाजपा कोई बहाना नहीं बना सकती है। जनता ने उसे जिले में प्रबल जनादेश दिया है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: