Current Crime
उत्तर प्रदेश

अब बुलंदशहर में वकील की अपहरण के बाद हत्या, पुलिस चौकी के पीछे गोदाम में मिली लाश

-प्रियंका बोलीं- कानपुर, गोरखपुर, बुलंदशहर में अपराधी बेखौफ, पता नहीं कब तक सोएगी सरकार?’
बुलंदशहर। उत्तर प्रदेश में कानपुर तथा गोरखपुर में हुए अपहरण के बाद अब बुलंदशहर में एक वकील की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई। अब 8 दिन संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुए वकील धर्मेंद्र चौधरी की लाश बरामद हुई है। चौंकाने वाली बात यह है कि हत्या पुलिस चौकी के पीछे की गई और पुलिस को पता तक नहीं चला। वकील के शव को आग के हवाले कर खुर्जा इलाके के एक टाइल्स के गोदाम में 8 फीट गहरे गड्ढे में दफन कर दिया गया था। मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी एक बार फिर यूपी सरकार पर निशाना साधा। प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘यूपी में जंगलराज फैलता जा रहा है। क्राइम और कोरोना कंट्रोल से बाहर है। बुलंदशहर में धर्मेन्द्र चौधरी जी की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई। कानपुर, गोरखपुर, बुलंदशहर। हर घटना में कानून व्यवस्था की सुस्ती है और जंगलराज के लक्षण हैं। पता नहीं सरकार कब तक सोएगी?’ वकील की जली लाश पुलिस ने शुक्रवार देर रात 12 बजे रात बरामद की। हत्या के बाद खुर्जा में तनाव व्याप्त है, जिसको देखते हुए भारी पुलिस बल के साथ पीएसी को तैनात किया गया हैं।

जानकारी के अनुसार खुर्जा निवासी धर्मेंद्र चौधरी वकालत और प्रॉपर्टी डीलर का काम करते थे। 25 जुलाई की रात संदिग्ध परिस्थितियों में वह गायब हो गए। सूचना के बाद मेरठ जोन के आईजी मौके पर पहुंचे। पुलिस लापता धर्मेंद्र चौधरी की तलाश खेत खलियान से लेकर जंगलों और नहरों में करती रही मगर कोई सुराग नहीं लगा। शुक्रवार देर रात 12 बजे खुर्जा के कबाड़ी बाजार में पुलिस चौकी के ठीक पीछे एक मार्बल टाइल्स के गोदाम में पुलिस ने सूचना मिलने पर तलाशी शुरू की। खुदाई के दौरान लापता चौधरी का शव 8 फीट गहरे टैंक में मिला। अधिवक्ता पर धारदार हथियार से वार किए गए थे और उनके शव की पहचान मिटाने के लिए आग लगा दी गई थी। मामले में मृतक के भाई गजेंद्र सिंह ने बताया कि उनके भाई 25 तारीख से लापता थे, जिसकी सूचना पुलिस को दे दी गई थी। जब उनकी डायरी से लेनदेन का पता लगा तो उनके दोस्त विक्की पर शक हुआ। इसके बाद विक्की के गोदाम से अधिवक्ता का शव बरामद हुआ है। भाई ने आरोप लगाया कि वकील की अपहरण कर हत्या की गई है। मामले में एसएसपी संतोष कुमार ने बताया कि पुलिस की 8 टीमें वकील की तलाशी में लगी हुई थीं। आसपास के जनपद और कई प्रदेशों में दबिश भी दी गई थी। पैसे के लेनदेन को लेकर उनकी हत्या की गई है। मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मामले की जांच की जा रही है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: