Current Crime
उत्तर प्रदेश

अब परिवार दर परिवार हो रहे कोरोना के शिकार!

संभवत: सामुदायिक संक्रमण की लपटों में भी घिर गया मेरठ
मेरठ। कुछ दिनों तक छिचपुट या इक्का दुक्का मामले सामने आने के बाद कोरोना की आंच पर सुलगता मेरठ संभवत: अब सामुदायिक संक्रमण की लपटों में भी घिर गया है? इसने स्वास्थ्य विभाग को भी चिंता में डाल दिया है। कोरोना लगातार पूरे परिवार को अपनी चपेट में ले रहा है। यहां कई परिवार कोरोना के शिकार हो चुके हैं। अब बीजेपी कार्यकर्ता के परिवार में अब सात लोग संक्रमित हो गए हैं और एक मौत हो चुकी है। वहीं, थापरनगर में भी एक पूरा परिवार कोरोना की चपेट में हैं। परिवार में एक बुजुर्ग महिला की कोरोना से मौत हो गई है। सीएमओ डॉ. राजकुमार ने बताया कि पूरे परिवार को अस्पताल में आइसोलेट किया गया है।

बीजेपी कार्यकर्ता का पूरा परिवार पॉजिटिव
कोतवाली थाना क्षेत्र के जामा मस्जिद इलाके में मंदिर के पास रहने वाले बीजेपी कार्यकर्ता के परिवार में छह सदस्य पॉजिटिव मिले हैं। इनमें एक ढाई साल की बच्ची सहित सभी महिलाएं हैं। बीजेपी कार्यकर्ता का भाई दो दिन पहले पॉजिटिव आया था और उससे पहले पिता की मौत हो गई थी। इस परिवार की शहर में बड़ी दुकान है। 62 साल के व्यापारी को 25 मई को मेडिकल कॉलेज में मृत घोषित कर दिया था। उन्हें बाद में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। सीएमओ ने बताया कि व्यापारी की मौत के बाद परिवार के अन्य सदस्यों को होम क्वॉरंटाइन किया गया था। अब छह की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

बजुर्ग मां की मौत, बेटा बहू तथा पोती पॉजिटिव
वहीं, पुलिस के अनुसार सदर बाजार थाना क्षेत्र निवासी 81 साल की बुजुर्ग महिला की गुरुवार तड़के मौत हो गई थी। उनका 60 साल का बेटा और बहू 26 मई को कोरोना पॉजिटिव आए थे। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने दोनों को सुभारती में आइसोलेट करा दिया है। घर में बुजुर्ग की पोती की भी रिपोर्ट पॉजिटिव पाए जाने पर सुभारती अस्पताल में आइसोलेट कर दिया गया। एसओ सदर बाजार विजय गुप्ता ने बताया कि थापर नगर निवासी परिवार के नौकर की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।

किसी परिवार में 11, किसी में 13 तो किसी में 21 सदस्य संक्रमित
गौरतलब है कि मुजफ्फरनगर में कोरोना के 12 नए केस मिले थे। इनमें से 11 लोग एक ही परिवार से हैं। वहीं, इससे पहले मेरठ में ही बीजेपी के युवा नेता विभांशु वशिष्ठ के परिवार के अन्य सदस्य भी कोरोना से पीड़ित हो चुके हैं। उनके पिता की इस बीमारी से मौत हो चुकी है। वहीं, मेरठ के मंजूर नगर इलाके में भी एक परिवार के 13 सदस्य कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इससे पहले शास्त्री नगर में एक परिवार के 21 लोग संक्रमित पाए गए थे। मेरठ मेडिकल कॉलेज में कोरोना से 26वीं मौत हो गई। कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ एस के गर्ग ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि मरने वाले 60 साल के बुजुर्ग में शुक्रवार को ही कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। वह मेडिकल कॉलेज के कोविड 19 वॉर्ड में भर्ती थे, जहां उन्होंने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: