इमरान खान का कबुलनामा, पाकिस्तान में रची गई मुंबई हमले की साजिश, दोषियों को दूंगा सजा सपा बोली- योगी आदित्यनाथ यूपी के सबसे अयोग्य मुख्यमंत्री करंट से समलैंगिकता का इलाज करने वाले चिकित्सक को कोर्ट ने किया तलब फिल्‍म निर्माता प्रेरणा अरोरा गिरफ्तार शरद यादव ने वसुंधरा के बारे में दिए गए बयान पर खेद जताया 21 साल बाद राजकुमारी दीया ने मांगा तलाक दिल्ली-एनसीआर: दो हफ्तों से हवा में कोई सुधार नहीं प्रवासी भारतीय देश की विकास गाथा के दूत हैं: गृह राज्‍यमंत्री रिजिजू रेप पीड़िता के इलाज के एवज में 9 लाख का बिल निजी अस्पतालों में होगा ‘आयुष्मान’ के दो तिहाई मरीजों का उपचार
Home / अन्य ख़बरें / गाजियाबाद में अब नहीं बनती नकली दवाई

गाजियाबाद में अब नहीं बनती नकली दवाई

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। एक समय था जब गाजियाबाद में कोई ऐसी चीज नहीं बची थी, जिसकी नकली फैक्ट्री ना पकड़ी गई हो। नकली नोट से लेकर नकली गुटखा तक यहां पकड़े गये हैं। नकली दारू से लेकर नकली दवा तक के कारखाने पकड़े गये हैं। लेकिन अब खबर ये है कि जिले में कोई भी नकली दवाई की फैक्ट्री नहीं चल रही है। गाजियाबाद में पिछले एक साल से नकली दवा का कोई मुकदमा किसी थाने में दर्ज नहीं हुआ है। आईजी एलआईयू की रिपोर्ट और उसके उत्तर में दिया गया जवाब यही बता रहा है। केवल वर्ष 2009 में नकली दवा का मुकदमा थाना सिहानीगेट में दर्ज हुआ था और यह मामला फिलहाल कोर्ट में चल रहा है। सूत्र बताते हैं कि एलआईयू द्वारा नकली दवा के मामले में गोपनीय जांच अभियान भी चलाया गया था लेकिन नकली दवा का कोई मामला प्रकाश में नहीं आया। रिपोर्ट के बाद पता चला है कि जून के महीने में नकली दवा का कोई मामला जिले के किसी थाने में दर्ज नहीं हुआ है। इसके अलावा नकली दवाइयो के मामले में गाजियाबाद के अलावा सहारनपुर, मुजफ्फरनगर,गौतमबुद्ध नगर,व मेरठ से भी रिपोर्ट मांगी गई थी। मुजफ्फरनगर में एक मेडिकल स्टोर के स्वामी का नाम नकली दवा बेचने के मामले में सामने आया है। हालांकि मुजफ्फरनगर में भी नकली दवाई के मामले का कोई मुकदमा जून के महीने में दर्ज नहीं हुआ है। इसी तरह नोएडा में भी नकली दवा के मामले में जो मुकदमा दर्ज हुआ था, वह भी 9 साल पहले हुआ था और इस मामले में कोर्ट में सुनवाई चल रही है। सहारनपुर
में भी नकली दवा के मामले का
कोई मुकदमा जून के महीने में दर्ज नही हुआ है।

Check Also

इलेक्ट्रिकल-ऑटोमेशन व्यवसाय के बारे में प्रतिस्पर्धा आयोग ने लोगों से मांगी राय

नई दिल्ली (ईएमएस)। भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीए) ने 16 जुलाई, 2018 को लारसन एंड टूब्रो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *