ठीक से ब्रश नहीं करने से हो सकती हैं कई जानलेवा बीमारियां

0
35

नई दिल्ली (ईएमएस)। हाल ही में हुई एक स्टडी में यह बात पता चली है कि खराब ऑरल हेल्थ की वजह से लिवर कैंसर का खतरा 75 प्रतिशत तक बढ़ जाता है।यूके के बेल्फास्ट स्थित क्वीन्स यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने यूके में 4 लाख 70 हजार लोगों पर हुई एक स्टडी में एकत्र किए गए डेटा की जांच की गई। इस स्टडी में यह जानने की कोशिश की गई कि ऑरल हेल्थ कंडिशन और पेट से जुड़े कई तरह के कैंसर, जिसमें लिवर कैंसर, रेक्टम कैंसर और पैन्क्रिआटिक कैंसर के रिस्क के बीच क्या कनेक्शन है। स्टडी में पता चला कि मुंह से जुड़ी कॉमन समस्याएं जैसे मुंह के छाले, मसूड़ों से खून आना और ढीले दांत जैसी समस्याओं और कैंसर रिस्क के बीच रिलेशन है।हालांकि पेट से जुड़े बाकी कैंसर और खराब ऑरल हेल्थ के बीच कोई अहम लिंक नहीं मिला, परंतु हेपाटोबाइलरी कैंसर और ऑरल हेल्थ के बीच अहम कनेक्शन नजर आया। यही नहीं, मुंह के खराब स्वास्थ्य की वजह से सिर्फ कैंसर ही नहीं, बल्कि हार्ट डिजीज, स्ट्रोक और डायबीटीज जैसी बीमारियों का खतरा भी कई गुना बढ़ जाता है। जानकारी के अनुसार 6 साल तक इस स्टडी का फॉलोअप किया गया। इसमें यह बात सामने आयी कि स्टडी में शामिल 4 लाख 70 हजार पार्टिसिपेंट्स में से 4 हजार 69 लोगों में गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर पाया गया। हालांकि इनमें से सिर्फ 13 प्रतिशत लोगों में खराब ऑरल हेल्थ की समस्या थी। खराब ऑरल हेल्थ और लिवर कैंसर के बीच कैसा लिंक है इस बारे में कोई खास जानकारी नहीं मिल पायी है। एक संभावित कारण मुंह और आंत में मौजूद माइक्रोब्स हो सकते हैं, जो इस बीमारी को बढ़ाते हैं। बता दें कि लिवर हमारे शरीर के इंजन की तरह है, जो शरीर से बैक्टीरिया और टॉक्सिन्स को बाहर निकालता है, लेकिन जब लिवर खुद बीमार हो जाता है जैसे हेपेटाइटिस, लिवर कैंसर या लिवर सिरॉसिस जैसी समस्याओं की वजह से तो लिवर का फंक्शन घट जाता है। इससे लिवर शरीर में लंबे समय तक रुक कर और ज्यादा नुकसान पहुंचाता है।