दसवीं फैल लड़के ने राजकोट के युवक की फेसबुक और इंस्टाग्राम किया हेक 21 को युवाओं से रूबरू होंगे भाजपाध्यक्ष अमित शाह आकाशवाणी से आज मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी की भेंटवार्ता का होगा प्रसारण रेप की घटनाओं पर हरियाणा के सीएम खट्टर की आपत्तिजनक टिप्पणी से चहुओर रोष भारत को पंड्या की कमी खलेगी : हसी आस्ट्रेलिया दौरे में भारतीय गेंदबाजों को इन खिलाड़ियों से रहना होगा सावधान न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान को 227 पर समेटा विराट ने ऋषभ के साथ साझा की तस्वीरें अखाद्य तेल का आयात 8 फ़ीसदी बढ़ा मिंत्रा जबोंग का करेगी विलय, अनंत नारायणन बने रहेंगे सीईओ
Home / विदेश / उत्तर कोरिया ने परमाणु नीति की ओर रूख करने की चेतावनी दी

उत्तर कोरिया ने परमाणु नीति की ओर रूख करने की चेतावनी दी

सियोल (ईएमएस)। उत्तर कोरिया के सनकी तानाशाह किम ने चेतावनी दी कि अगर अमेरिका आर्थिक संकट से जूझ रहे देश के खिलाफ सख्त आर्थिक प्रतिबंध नहीं हटाता तो वह परमाणु हथियार बनाने की सरकारी नीति की ओर रूख करने पर ‘‘गंभीरता’’ से विचार करेगा। उत्तर कोरिया वर्षों से अपनी अर्थव्यवस्था के साथ अपनी परमाणु क्षमताओं को विकसित करने की नीति पर चल रहा था। अप्रैल में उत्तर कोरियाई नेता ने प्रायद्वीप पर शांति बनाए रखने का हवाला देते हुए घोषणा की थी कि परमाणु हथियार की तलाश पूरी हो चुकी है और अब उनका देश ‘‘सामाजिक आर्थिक प्रगति’’ पर ध्यान केंद्रित करेगा। बहरहाल, उत्तरकोरिया के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि अगर अमेरिका प्रतिबंधों पर अपना रुख नहीं बदलेगा तो प्योंगयांग अपनी नीति पर वापस लौट सकता है। एक बयान में कहा, ‘‘नीति फिर से लौट सकती है और रुख में बदलाव पर गंभीरता से पुनर्विचार किया जा सकता है। सिंगापुर में जून में ऐतिहासिक शिखर वार्ता में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन ने परमाणु निरस्त्रीकरण पर अस्पष्ट बयान पर हस्ताक्षर किए थे। अभी तक इस पर बहुत कम प्रगति हुई है। अमेरिका तब तक उत्तर कोरिया के खिलाफ प्रतिबंधों को जारी रखने पर जोर दे रहा है जब तक वह पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण नहीं कर लेता। दूसरी ओर उत्तर कोरिया अमेरिकी की मांग को ‘‘गुंडागर्दी’’ जैसा बताकर उसकी निंदा कर रहा है।

Check Also

कैलिफोर्निया के जंगलों में लगी भीषण आग, 1,000 से ज्यादा लोग लापता

लॉस एजिलिस (ईएमएस)। उत्तरी कैलिफोर्निया के जंगलों में लगी विनाशकारी आग के कारण लापता होने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *