मेरठ में नया कीर्तिमान- फहराया जाएगा देश का सबसे ऊंचा 380 फीट ऊंचा तिरंगा

0
182

मेरठ (ईएमएस)। भारत की आजादी की प्रथम लड़ाई 1857 की क्रांति का अलख जगाने वाला मेरठ शहर अब एक नया कीर्तिमान रचने जा रहा है। इस शहर में देश का सबसे ऊंचा तिरंगा करीब 380 फीट की ऊंचाई पर लगाया जाएगा। तिरंगे के लिए पोल मेरठ के वलीदपुर गांव में लगाया गया है जहां इस साल मार्च में उद्घाटन के दौरान झंडा फहराया जाएगा। इसे गांव के ही एक सामाजिक संगठन श्री परमधाम न्यास के सदस्यों ने लगवाया है। फिलहाल वर्तमान में देश का सबसे ऊंचा झंडा भारत-पाकिस्तान के अटारी बॉर्डर पर 360 फीट की ऊंचाई पर लगा है। श्री परमधाम न्यास के मीडिया कोऑर्डिनेटर सतीश ने बताया, शुरुआत में हमने एक 307 फीट की ऊंचाई पर तिरंगा लगाने की योजना बनाई थी क्योंकि उस वक्त तक देश का सबसे ऊंचा झंडा झारखंड के रांची में स्थित था जिसकी ऊंचाई 293 फीट थी। इसके बाद मार्च 2017 में अटारी बॉर्डर पर 360 फीट पर तिरंगा फहराए जाने के बाद हमने झंडे की ऊंचाई बढ़ाकर 380 फीट करने का विचार किया।
यह झंडा संगठन की ही 35 बीघा जमीन के एक हिस्से में लगाया जाएगा। उन्होंने बताया, इसके अलावा मूर्तियों के साथ एक गैलरी लगाई जाएगी जिसमें हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के बारे में जानकारी होगी। संगठन के सदस्यों का दावा है कि पूरे प्रोजेक्ट में करीब 2 करोड़ रुपये की लागत आई। संगठन के उपाध्यक्ष नितिन कुमार ने बताया, हमने पूरे प्रोजेक्ट के लिए घर-घर जाकर फंड इकट्ठा किया। हमारे वॉलनटिअर्स और सदस्यों ने भी राष्ट्रीय ध्वज के लिए योगदान दिया। 35 बीघा जमीन पर एक भारतीय नक्शे की थीम का गार्डन भी है। इसके अलावा फ्लैगपोल के टॉप पर राष्ट्रीय प्रतीक भी लगा हुआ है। सतीश ने कहा, मेरठ एक ऐसा शहर है जहां से 1857 क्रांति की शुरुआत हुई और हमने इस जगह पर देश का सबसे ऊंचा झंडा लगाने का विचार किया। यह एक टूरिस्ट स्पॉट की तरह काम भी करेगा। इस जगह पर चंद्रशेखर आजाद की पुण्यतिथि 27 फरवरी या फिर भगत सिंह की पुण्यतिथि 23 मार्च को ध्वजारोहण किया जाएगा।