एयर इंडिया की बिक्री के लिए नया प्रस्ताव जल्द

0
39

नई दिल्ली (ईएमएस)। वित्त मंत्रालय सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया की बिक्री को लेकर नए सिरे से प्रस्ताव तैयार कर रहा है। नए प्रस्ताव में कच्चे तेल की कीमतों एवं विनिमय दर में उतार-चढ़ाव जैसे मुद्दों को शामिल किए जाने की संभावना है। सलाहकार कंपनी ईवाई ने पिछले साल इन्हें संभावित कारणों में गिना था, जिसकी वजह से राष्ट्रीय विमानन कंपनी को कोई खरीदार नहीं मिला था। मंत्रालय के प्रस्ताव को एयर इंडिया विशिष्ट वैकल्पिक तंत्र (एआईएसएएम) के पास भेजा जाएगा। इसमें मंत्रालय एयर इंडिया में सरकार की 100 प्रतिशत या 76 प्रतिशत की हिस्सेदारी बेचने का प्रस्ताव रख सकती है। एआईएसएएम मुख्य रूप से मंत्रियों का समूह है। अरुण जेटली एवं सुरेश प्रभु के नए मंत्रिमंडल में शामिल नहीं होने के कारण इसका पुनर्गठन करना होगा। इन दोनों के स्थान पर अब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एवं हरदीप सिंह पुरी को शामिल किया जाएगा।
रिपोर्ट पर पहले हो चुकी है चर्चा
एक अधिकारी ने बताया कि ईवाई की रिपोर्ट पर पिछले साल जून में एआईएसएएम की बैठक में चर्चा हुई थी। इसके बाद एयर इंडिया की बिक्री प्रक्रिया को टाल दिया गया था। अधिकारी ने कहा, हम एयर इंडिया की बिक्री को लेकर एक नया प्रस्ताव एआईएसएएम के समक्ष रखेंगे। पिछले साल एयर इंडिया के विनिवेश के विफल रहने के बाद उठाए गए मुद्दों को भी शामिल किया जाएगा। एआईएसएएम को यह तय करना होगा कि सरकार 100 प्रतिशत हिस्सेदारी की बिक्री करेगी या 76 प्रतिशत की।