Current Crime
उत्तर प्रदेश ग़ाजियाबाद दिल्ली एन.सी.आर

वीडियो कॉल पर इंन्टरव्यू: जनरल की बेटी मृणालिनी सिंह के तीखे बोल

गाजियाबाद (करंट क्राइम)। जनरल वीके सिंह की पुत्री मृणालिनी सिंह भले ही सियासी मामलों से दूर रहती हैं, लेकिन सामाजिक मुद्दों पर वह पूरी हर मुख रहती हैं। मानवीय संवेदनाओं से जुड़कर चलती हैं और जब बात राष्टभक्ति की हो तो फिर मृणालिनी सिंह का रुख अलग ही होता है। मृणालिनी सिंह एक फौजी की बेटी हैं तो वह एक फौजी की पत्नी भी हैं। देश प्रेम और देश के प्रति उनका जज्बा, उनकी हर बात से दिखाई देता है। मृणालिनी सिंह ने चाइनीज ऐप को लेकर सोशल मीडिया पर जंग छेड़ दी है। वह चाहती हैं कि अब आर्थिक मोर्चे पर भारत चाइना को मात दे। उनका कहना है कि जब तक देश की जनता जागरूक नहीं होगा तब तक हम चाइना को इस मोर्चे पर मात नहीं दे सकते। चीन ने बहुत ही शातिर तरीके से हमारी अर्थव्यवस्था का प्रभावित किया है। इसलिए वह एक जागरूकता अभियान चला रही हैं और उनका भरोसा है कि देश के नागरिक अपने देश की आर्थिक सुरक्षा के लिए इस जंग में अपना-अपना योगदान देंगे। गुरुवार को मृणालिनी सिंह ने करंट क्राइम से बात की और उनकी मुहिम को लेकर करंट क्राइम ने पूछा कि आखिर इस मुहिम के पीछे आपका उद्देश्य क्या है। तब मृणालिनी सिंह ने करंट क्राइम को बताया कि चाइना की अर्थव्यवस्था को मजबूती कहीं ना कहीं भारतीय अर्थव्यवस्था से मिली है। उसके उत्पादों को हमने इस तरह अपनाया कि हम अपनी अर्थव्यवस्था को कमजोर कर बैठे। हमारे छोटे-छोटे बिजनेस खत्म करने के लिए चीन ने अपने ऐसे उत्पादों को भारतीय बाजार में उतारा जो सस्ते लेकिन टिकाऊ बिल्कुल भी नहीं थे। लेकिन इन उत्पादों ने भारतीय बाजार को बुरी तरह प्रभावित कर दिया। उन्होंने कहा कि आर्थिक मोर्चे पर ये जंग कहीं ना कहीं से तो शुरू होनी थी। लिहाजा एक देशभक्त नागरिक होने के नाते मृणालिनी सिंह ने इस जंग की शुरूआत की है। हम केवल दिवाली पर ही चाइनीज लाइट का बहिष्कार नहीं करेंगे बल्कि हम चाइना के हर उत्पाद का बहिष्कार करेंगे। देश के लोगों को यह समझना होगा कि यदि वह भारत की अर्थव्यवस्था को मजबूत करना चाहते हैं तो वह अपना योगदान इस जंग में सैनिक के रूप में देना शुरू करें। देश का हर नागरिक इस बात का संकल्प ले लें कि वह मोबाइल फोन ऐप से लेकर मोटर बाइक तक किसी भी उत्पाद को चाइना से नहीं लेगा। वह चाइना के हर सामान का बहिष्कार करेगा। जब हमारा पूरा देश चाइनीज उत्पाद को खरीदेगा ही नहीं तो हमारी अर्थव्यवस्था अपने आप मजबूत होगी और चाइना अपने बाजार को यहां से समेटने पर मजबूर हो जाएगा।
कोरोना पूरे विश्व को चाइना की देन और माफी मांगे चीन
मृणालिनी सिंह ने कहा कि आज पूरे विश्व में कोरोना महामारी का प्रकोप छाया हुआ है। पूरा विश्व इस महमारी से जूझ रहा है और कोरोना वायरस पूरे विश्व को चाइना की देन है। पूरा विश्व चाइना के खिलाफ है और सबसे बड़ी बात यह है कि चीन ने इतना होने के बाद भी भारत को पीपीई किट फर्जी भेज दी। कोरोना वायरस के लिए चीन जिम्मेदार है और वह अभी तक इसके लिए माफी भी नहीं मांग रहा है।
मृणालिनी सिंह ने की अपील भारतीय ऐप ही करें डाउनलोड
मृणालिनी सिंह ने एक देशभक्त नागरिक के रूप में देश के सभी युवाओं से अपील की है कि वह भारतीय आईटी कंपनी के ऐप डाउनलोड करें। उनके मोबाइल फोन में जितने भी चाइनीज ऐप हैं उन्हें डिलीट करें। मृणालिनी सिंह ने कहा कि हम अपनी अर्थव्यवस्था को यहां से भी मजबूत कर सकते हैं और हमारे इन छोटे-छोटे कदमों से हमारा देश मजबूत होगा। उन्होंने देश के नागरिकों से अपील की कि हम चाइनीज ऐप से किराने का सामान भी नहीं मंगाएंगे। हम अपने पड़ोस की दुकान से सामान खरीदेंगे। हम स्वदेशी अभियान चलाएंगे और देश के अर्थव्यवस्था में अपना योगदान देंगे।
मृणालिनी सिंह ने कहा एफडीआई की नई नियमावली पूरी तरह ठीक
मृणालिनी सिंह ने करंट क्राइम से बातचीत में एफडीआई की नई नियमावली को पूरी तरह ठीक बताया। उन्होंने कहा कि यह नियमावली पूरी तरह ठीक है। पहले अन्य देशों से कारोबार करने में अनुमति नहीं लेनी होती थी, लेकिन अब परमीशन लेनी होगी। जब ऐसा होगा तो चीन भारतीय शेयर खरीदने पर जोर देगा और इस नई नियमावली से चीन की दखल रुकेगी।
मैं और मेरा पूरी परिवार बिना फोटो के कर रहे हैं सेवा
लॉकडाउन में लोगों को भोजन व अन्य जरूरी चीजों को उपलब्ध कराने के सवाल पर मृणालिनी सिंह ने कहा कि मेरे पिता जनरल वीके सिंह के लोकसभा क्षेत्र गाजियाबाद में प्रशासन के अलावा समाजसेवी संस्थाओं का बेहद सराहनीय योगदान रहा है। यहां पर भाजपा संगठन ने बहुत ही शानदार तरीके से लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए, सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए जरूरतमंदों को उनके दरवाजे पर भोजन उपलब्ध कराया है। इसके लिए सभी बधाई के पात्र हैं।
कोरोना से जंग जारी है और उन्होंने कहा कि मैं और मेरा पूरी परिवार जनता की सेवा कर रहा है। हमने मास्क से लेकर राशन वितरण तक लोगों की मदद की है। मुझे पहले से ही दिखावे की आदत नहीं है और यह संस्कार मुझे मेरे परिवार से मिले हैं। राशन वितरण के दौरान फोटो सेशन को लेकर उन्होंने कहा कि यह अच्छी आदत नहीं है। क्योंकि फोटो से उस व्यक्ति के मान-सम्मान को ठेस पहुंचती है जो हमसे मदद लेने आया है और हम अनजाने में ही सही लेकिन फोटो के जरिए एक बड़ी गलती कर रहे हैं। हमें इस प्रवृति से बचना चाहिए। मृणालिनी सिंह ने कहा कि हमारे परिवार द्वारा जनता की सेवा की जा रही है और हम अपनी क्षमता के अनुसार जनसेवा करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे।
मोबाइल ऐप से ही पहुंचाया है चाइना ने हमारे देश को बड़ा नुकसान
लोकसभा सांसद जनरल वीके सिंह की सुपुत्री मृणालिनी सिंह ने कहा कि हमारे देश में चाइना ने सबसे ज्यादा नुकसान मोबाइल फोन के जरिए पहुंचाया है। उन्होंने बताया कि आज देश में हर नागरिक के मोबाइल फोन में अहम जानकारियां होती हैं और चाइना ने इस सिस्टम में सेंध लगाई है। फोन सिक्योरिटी से जुड़ा होता है और यहां पर हाल ही में जूम ऐप का पता चला था कि डाटा चोरी हो गया और इसके बाद सरकार ने सभी अफसरों को जूम ऐप डिलीट करने के निर्देश दिए थे। मोबाइल फोन में कई ऐप ऐसे हैं जो चाइना की अर्थव्यवस्था को मजबूत करते हैं और हमारी अर्थव्यवस्था को कमजोर करते हैं। इसलिए सबसे पहले हमें अपने मोबाइल फोन से सभी चाइनीज ऐप डिलीट करने होंगे। मृणालिनी सिंह ने कहा कि टिक टॉक तो अवश्य डिलीट कर दें। इसके अलावा जितने भी चाइनीज मोबाइल ऐप हैं वह सभी डिलीट करें। मृणालिनी सिंह ने कहा कि चाइनीज ऐप की पहचान करना बेहद आसान हैं। जब आप ऐप जाकर यह सर्च करेंगे कि ह्यहू इज द मेकर आॅफ दिस ऐपह्ण तो आपको पता चल जाएगा और आप इसे तत्काल डिलीट कर दें।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: