मोर्गन अभी कप्तानी संभालते रहें : स्ट्रॉस

0
67

लंदन (ईएमएस। इंग्लैंड के कप्तान इयान मोर्गन के भविष्य को लेकर सवाल उठने लगे हैं। वहीं पूर्व कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस ने मोर्गन का समर्थन किया है। मोर्गन एकदिवसीय और टी20 मैचों के कप्तान हैं, पर वे टेस्ट टीम का हिस्सा नहीं हैं। इंग्लैंड को अब अगली एकदिवसीय सीरीज अगले साल खेलनी है, तब उनकी टीम दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जाएगी। स्ट्रॉस ने कहा कि मोर्गन इंग्लैंड के सबसे शानदार कप्तान रहे हैं। वे चाहते हैं कि मोर्गन इस जिम्मेदारी को संभालते रहें फिर भी ऐसा माना जा रहा है कि अगर मोर्गन कप्तानी छोड़ते हैं तब जोस बटलर अगले कप्तान बन सकते हैं।
इयोन मोर्गन 32 साल के हैं। अब इतनी जल्दी यह भी साफ नहीं हो सकता कि वे 2023 में भारत में खेले जाने वाले अगले एकदिवसीय विश्वकप में खेलेंगे या नहीं। हां, यह लगभग तय है कि वे अगले साल अक्टूबर में ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले टी20 विश्व कप में इंग्लैंड की कमान संभालेंगे। स्ट्रॉस ने इसी बात पर कहा कि जो भी होता है इस पर आखिरी फैसला स्वयं मोर्गन का होगा। वहीं आईसीसी की वेबसाइट ने लिखा, ‘ मोर्गन ने क्रिकेट के एवरेस्ट को फतह कर लिया है। अब सवाल यह उठता है कि आखिर वे आगे क्या हासिल करना चाहते हैं। यही सवाल हर खिलाड़ी के सामने होगा क्योंकि पूर्व में हम सबने गलती की है। हमने एशेज सीरीज़ जीती और विश्व नंबर-1 बने, तब हमें लगा कि यही सब कुछ है। अब हमें इस बड़ी जीत की नींव पर कुछ और बड़ा हासिल करना होगा और ये एक बहुत बड़ी चुनौती होगी।’
स्ट्रॉस ने कहा, ‘मुझे उम्मीद है कि मोर्गन जो भी अभी कर रहे हैं उसके बारे में साफ तौर पर सोचें कि क्या वो आने वाले समय में इसी को जारी रखना चाहते हैं। सवाल बस इतना है कि वो थोड़ा समय लेकर अपने बारे में सोचें। अगर वो कप्तान बने रहना चाहते हैं तो उनमें इस जिम्मेदारी के लिए उत्साह रहनी चाहिए ताकि वे दूसरों को प्रेरित कर सकें जैसा उन्होंने पिछले चार साल किया है। अगर उन्हें कप्तानी करने की लालसा है तो हमने देखा है कि वो इतने लाजवाब कप्तान हैं।’