Current Crime
अन्य ख़बरें दिल्ली

दिल्ली में 50 डिग्री तक पहुंच गया पारा

नई दिल्ली। गर्मी ने पिछले कुछ दिनों से रिकॉर्ड तोड़ रखा है। सुबह-शाम को जो थोड़ी राहत मिलती थी, वह दुर्लभ हो गई है। राजस्थान का चुरू मंगलवार को दुनिया की सबसे गर्म जगह बन गया जहां पारा 50 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश और राजस्थान में भयंकर लू चल रही है। मंगलगवार को लू का प्रकोप चरम पर था। मौसम विभाग के मुताबिक, इसकी वजह राजस्थान से आ रही गर्म हवाएं हैं। अगले दो दिन, यानी 28 मई तक मौसम में खास बदलाव के आसार नहीं हैं। इस हफ्ते के आखिर में हल्की बारिश हो सकती है।

चुरू में गर्मी ने तोड़े रिकॉर्ड
चुरू मंगलवार को दुनिया की उन दो जगहों में से था जो सबसे गर्म थीं। पाकिस्तान के जैकबाबाद का तापमान भी 50 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। हरियाणा के हिसार का पारा भी 48 डिग्री रहा जबकि उत्तर प्रदेश के बांदा से भी इतना ही तापमान दर्ज हुआ। राजधानी दिल्ली में गर्मी ने पिछले 18 साल का रेकॉर्ड तोड़ दिया है। यहां मंगलवार को 47.6 डिग्री पारा दर्ज हुआ।

अभी नहीं मिलेगी गर्मी से राहत
उत्तरपश्चिम भारत, मध्य भारत और पूर्वी भारत के निकटवर्ती अंदरूनी भागों में यूं ही सूखी हवाएं अगले दो दिन तक चलेगी। हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पूर्वी मध्य प्रदेश और विदर्भ में 28 मई तक तेज गर्मी की स्थिति बनी रहेगी। अगले दो दिन पंजाब, छत्तीसगढ़, ओडिशा के अंदरूनी भागों, गुजरात, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश के अंदरूनी हिस्सो, तेलंगाना, बिहार और झारखंड में अलग-अलग इलाकों में गर्म मौसम की स्थिति बनी रहेगी।

28 मई की रात से बदलेगा मौसम
28 मई की रात से कुछ राहत मिलेगी। जब पश्चिमी विक्षोभ उत्तर-पश्चिम भारत को प्रभावित करेगा और पुरवैया हवाएं वायुमंडल में निचले स्तरों पर चलेंगी। धूलभरी आंधी और गरज के साथ 50-60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं एनसीआर-दिल्ली में 29 और 30 मई को चलने की संभावना है।

असम, मेघालय में बारिश का अलर्ट
मौसम विभाग ने मंगलवार को असम और मेघालय में 26-28 मई को भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। बंगाल की खाड़ी से दक्षिण-पश्चिमी हवाएं अपने साथ भारी नमी लेकर इन दो राज्यों में वर्षा करेंगी। स्काइमेट के अनुसार, मंगलवार को अरुणाचल प्रदेश के पासीघाट में 146 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। गोलपारा और उत्तर लखीमपुर में भी भारी बारिश दर्ज की गई, जिससे असम और मेघालय के कई हिस्सों में बाढ़ आ गई।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: