Current Crime
देश

मॉरीशस के विकास में भारतीयों का अदभुत योगदान

पोर्ट लुइस। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी मॉरीशस (Mauritius)यात्रा के दौरान गुरुवार को अप्रवासी घाट का दौरा किया। यहां पर उन्होंने वर्षों पहले भारत से मॉरीशस आए लोगों को याद किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि वह यहां आकर बेहद सम्मानित महसूस कर रहे हैं। साथ ही वह उन लोगों को याद कर आज बेहद खुश हैं जो वर्षों पहले भारत से यहां पर श्रमिकों के रूप में आए और यहां के विकास में भागीदार बने। वे बेहद बहादुर और अनुभवी लोग थे। पीएम ने कहा कि यह अप्रवासी घाट उन लोगों के जुनून और और उनकी हिम्मत का गवाह बना है।

अप्रवासी घाट पर विजिटर बुक में उन्होंने लिखा कि यह हम सभी की जिम्मेदारी है कि इसको संजों कर रखा जाए और आने वाली पीढ़ी को सौंप दिया जाए। उन्होंने कहा कि वर्षों पहले इसी जगह पर भारतीयों ने कदम रखा था। अंग्रजों के शासनकाल में कांट्रेक्ट लेबर के तौर पर यहां आने वाले श्रमिकों ने मॉरीशस के विकास में बड़ी भागीदारी निभाई है। उन्होंने कहा कि भारत से काफी संख्या में श्रमिक यहां पर आए और बाद में यहीं के होकर रह गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी मॉरीशस की यात्रा के दौरान आज गंगा तालावी के भी दर्शन किये और विश्व हिंदी सचिवालय भवन के निर्माण की आधारशिला भी रखी। इस मौके पर उन्होंने कहा कि मॉरीशस ने हिंदी भाषा को प्रेम और हिफाजत के साथ बढावा दिया। पीएम ने यात्रा के दौरान मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि इमारत के निर्माण कार्य की शुरुआत से विश्वभर में हिंदी प्रेमियों को खुशी होगी।

उन्होंने कहा कि यहां पर उन्हें जो प्यार और स्नेह मिला है कि वह भारत के कुछ हिस्से में हिंदी को मिले प्यार से कहीं ज्यादा है। पीएम ने मॉरीशस में हिंदी साहित्य भारत से ठेके पर लाए गए श्रमिकों के परिश्रम से लिखा गया है। उन्होंने विभिन्न भाषाओं में हिंदी शब्दों के इस्तेमाल का उल्लेख किया और कहा कि अंग्रेजी का ‘जगरनॉट’ हिंदी के जगन्नाथ यानी भगवान जगन्नाथ से लिया गया है। वहीं पीएम ने कहा कि दोनों देशों आर्थिक प्रगति में भागीदार हैं।

 

इस मौके पर पीएम ने मॉरीशस की असैन्य बुनियादी परियोजनाओं के लिए 500 मिलियन अमरीकी डॉलर के रियायती ऋण की भी पेशकश की। इस मौके पर पीएम ने कहा कि हम विश्व में अपनी सबसे मजबूत सामरिक भागीदारी में कोई ऐसा कदम नहीं उठएंगे, जिससे इस क्षेत्र को कोई नुकसान हो। इसके साथ ही पीएम ने मॉरीशस के प्रधानमंत्री को भारत जहाजों और उपकरण उपलब्ध कराने समेत सभी क्षेत्रों में समय पर सहायता करने का आश्वासन दिया है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: