कांग्रेस के झूठे वायदों पर जनता को भरोसा नहीं : नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री ने लालपुर में विशाल आमसभा को किया संबोधित प्रत्येक मतदाता से मतदान करने की जा रही अपील जीका बुखार से बचाव के लिए सावधानी बरतें चिल्ड्रन होम में गार्ड द्वारा बच्चों नशीली दवा देने के मामले में हाईकोर्ट ने शासन से मांगा जवाब पीएम मोदी का खुला चैलेंज पहले 4 पीढ़ियों का हिसाब दो, मैं तो 4 साल का हिसाब दे रहा हूं इमली के बीज में छिपा है चिकनगुनिया का इलाज: आईआईटी वैज्ञानिक गेहूं की बुआई के लिए खेतों में पानी ना होने से संकट में 3 हजार किसान bhopal क्राईम ब्रांच कार्यालय के सामने से कार चोरी तेज रफ्तार कार ने बाईक को मारी टक्कर, एक की मौत दुसरा घायल सिग्नेचर ब्रिज पर निर्वस्त्र होने का वीडियो वायरल
Home / अन्य ख़बरें / मारक्वेज ने जीता मोटोजीपी वर्ल्ड चैम्पियन खिताब

मारक्वेज ने जीता मोटोजीपी वर्ल्ड चैम्पियन खिताब

मोटेगी, जापान (ईएमएस) । स्पेन के निवासी और रेपसोल होंडा टीम के मोटोजीपी राइडर मार्क मारक्वेज ने जापान ग्रां प्री खिताब जीतने के साथ ही मोटोजीपी वर्ल्ड चैम्पियन-2018 खिताब अपने नाम कर लिया। मारक्वेज ने ट्विन रिंग मोटेगी सर्किट में छठे स्थान से रेस की शुरुआत की और वह जल्द ही चौथे स्थान पर आ गए। इसके बाद उन्होंने 42 मिनट 36.438 सेकेंड के समय के साथ शीर्ष स्थान पर कब्जा जमा लिया। एलसीआर होंडा टीम के ग्रेट ब्रिटेन के राइडर काल क्रुश्लो दूसरे और सुजुकी टीम के राइडर स्पेन के एलेक्स रिंस तीसरे नंबर पर रहे। पोल पोजिशन से रेस की शुरुआत करने वाले इटली निवासी और डुकाटी के मोटोजीपी राइडर आंद्रे डोविजियोसो दुर्घटना का शिकार हो गए और वह 18वें स्थान पर रहे। रेप्सोल होंडा के ही चालक इटली के दानी पेद्रोसा ने 11वें स्थान से रेस की शुरुआत की और उन्होंने आठवां स्थान हासिल किया।
25 वर्षीय मारक्वेज की 2018 में सभी वर्गो में यह आठवीं और करियर की 69वीं जीत है। इसके साथ ही वह सात विश्व चैम्पियनशिप खिताब जीतने वाले सबसे युवा राइडर बन गए हैं। उन्होंने इससे पहले, 2010 में 125 सीसी में, 2012 में मोटो-2 और 2013, 2014, 2016, 2017 और 2018 में मोटोजीपी खिताब जीते थे। मारक्वेज ने 25 साल 246 दिन में मोटोजीपी वर्ल्ड चैम्पियन का खिताब जीता है। उनसे पहले माइक हैलवुड थे जिन्होंने 26 साल 140 दिनों में सात खिताब जीते थे। मारक्वेज की इस जीत के बाद होंडा के विश्व चैम्पियनशिप तालिका में 47 और रेप्सोल होंडा टीम के टीम क्वालिफिकेशन में 51 अंक हो गए हैं। मारक्वेज ने इस जीत के बाद कहा, सच में मैं बहुत अच्छा महसूस कर रहा हूं। मैं यह कहना चाहूंगा कि मेरे लिए यह सपना सच होने जैसा है। यह मेरे लिए इसलिए बहुत खास है क्योंकि यह जीत मुझे अपनी टीम और होंडा कंपनी अध्यक्ष तथा मेरे परिवार के सामने नसीब हुई है। उन्होंने कहा, यह जीत इसलिए भी खास है क्योंकि यहां काफी कड़ा मुकाबला रहा। यहां का सर्किट काफी चुनौतीपूर्ण था, खासकर तब जब मैं खिताब जीतने को लेकर दबाव में था। लेकिन आज मैंने जैसी रेस की उम्मीद की थी, यह ठीक वैसी ही रही।

Check Also

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों पर निर्भर करता है वह कैसे खेलें, छींटाकशी पर पहल नहीं करेगा भारत : विराट

नई दिल्ली (ईएमएस) । भारतीय कप्तान विराट कोहली और सीनियर पेसर इशांत शर्मा ने कहा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *