Current Crime
राजनीति

लॉकडाउन पूरी तरह रहा फेल, लक्ष्य पूरा नहीं कर पाई मोदी सरकार : राहुल गांधी

नई दिल्‍ली। कोरोना के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए लागू लॉकडाउन पूरी तरह असफल रहा है यह बात कांग्रेस सांसद राहुल गांधी आज चौथी बार पत्रकारों से बात करते हुए कही। वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए होने वाली इस प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में राहुल ने कहा कि लॉकडाउन पूरी तरह से फेल हो गया है। उन्‍होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी को उम्‍मीद थी कि कोरोना 21 दिन में कंट्रोल हो जाएगा। मगर 60 दिन हो चुके हैं और केसेज बढ़ते जा रहे हैं। भारत उन देशों में से हैं जहां कोरोना सबसे तेजी से फैल रहा है। कांग्रेस सांसद ने कहा कि पीएम और उनके एडवायजरी स्‍टाफ ने ये उम्‍मीद नहीं की थी कि ऐसा हो जाएगा। उन्‍होंने कहा कि हिंदुस्‍तान पहला ऐसा देश है जो बीमारी के बढ़ते वक्‍त लॉकडाउन खत्‍म कर रहा है। राहुल गांधी ने कहा कि लॉकडाउन के 4 स्‍टेज फेल हो चुके हैं, ऐसे में मैं सरकार से पूछना चाहता हूं कि आगे के लिए उसकी क्‍या रणनीति है। मजदूरों के लिए क्‍या व्‍यवस्‍था है, एमएसएमईएस को कैसे खड़ा करेंगे? सरकार कहती है कि जीडीपी का 10फीसदी पैकेज के रूप में दिया है मगर असल में 1 फीसदी ही मिला है।

राहुल ने कहा कि पीएम मोदी ने नेशनल टीवी पर बताया था कि लॉकडाउन का मकसद है कि हम 21 दिन में कोरोना को हरा देंगे। चौथा लॉकडाउन खत्‍म होने को आ गया मगर बीमारियां बढ़ती जा रही हैं। कांग्रेस सांसद ने कहा कि राज्‍यों के पीछे अगर केंद्र सरकार खड़ी नहीं होगी तो वे कोरोना से नहीं लड़ पाएंगे। कांग्रेस नेता ने कहा कि बेरोजगारी की समस्‍या कोरोना की वजह से नहीं आई है। वह पहले से चली आ रही थी। अब इस पूरी समस्‍या में एक नया एलिमेंट जुड़ गया है। कारोबार बंद हो गए, कई सारे मझोले उद्योग बंद होने जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि हम इसीलिए छोटे उद्योगों को पैसा देने की डिमांड कर रहे हैं। अगर हम ऐसा नहीं करते तो ये आत्‍मघाती होगा।
चीन और नेपाल के साथ सीमा विवाद पर राहुल गांधी ने सरकार से ‘ट्रांसपेरेंसी’ की डिमांड की। उन्‍होंने कहा कि बॉर्डर पर जो भी हुआ, उसके बारे में सरकार को साफ-साफ बताना चाहिए। राहुल ने कहा कि एक बार सरकार पूरी जानकारी सामने रख दे, फिर मैं कुछ कहूंगा। पिछले हफ्ते राहुल गांधी ने कहा था कि लॉकडाउन का कोई नतीजा सामने नहीं आया। उन्‍होंने कहा कि लॉकडाउन के दो मकसद थे, बीमारी (कोरोना) को रोकना और इसके प्रसार को रोकना लेकिन संक्रमण बढ़ रहा है। कांग्रेस नेता ने मोदी सरकार के 20 लाख करोड़ के ‘पैकेज’ को खारिज करते हुए कहा था कि ‘लोग कर्ज नहीं बल्कि मदद चाहते हैं।’

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: