कोहली पर लगा चोकर का ठप्पा भारत को नहीं दिला पाए कोई भी बड़ा खिताब

0
54

मैनचेस्टर (ईएमएस)। इंटरनेशनल क्रिकेट में रनों और शतकों की झड़ी लगाने वाले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के लिए क्रिकेट वल्र्ड कप 2019 का सफर तो बहुत शानदार रहा, लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में वह चूक गए ठीक वैसे ही जैसा कि पाकिस्तान के खिलाफ 2017 चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल मैच में। विराट कोहली का जादू न तो अब तक आईपीएल टूर्नामेंट में चला और न ही किसी ग्लोबल क्रिकेट टूर्नामेंट में। आईपीएल में भी कोहली अब तक रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को चैम्पियन बनाने में नाकामयाब रहे हैं और अब वल्र्ड कप जैसे टूर्नामेंट में भी उन पर लगा चोकर्स का ठप्पा हटने का नाम नहीं ले रहा है। मौजूदा दौर में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाडिय़ों में शुमार कोहली को बल्लेबाज के तौर पर ही नहीं, कप्तान के तौर पर अपनी श्रेष्ठता साबित करने के लिए बड़ा मौका था लेकिन वह न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में महज 1 रन बनाकर आउट हो गए। विराट कोहली की बात करें तो वह वल्र्ड कप 2015 सेमीफाइनल मैच में भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक रन बनाकर आउट हुए थे। यह पहला मौका नहीं है जब विराट कोहली वल्र्ड कप के किसी नॉकऑउट मैच में फ्लॉप हुए हैं। इससे पहले कोहली 2011 वल्र्ड कप सेमीफाइनल मैच में पाकिस्तान के खिलाफ महज नौ रन बनाकर आउट हुए थे। 2015 वल्र्ड कप सेमीफाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक रन बनाकर आउट हुए थे। 2017 में कोहली ने इंग्लैंड में खेले गए मिनी वल्र्ड कप यानी चैंपियंस ट्रॉफी में भारत को टूर्नामेंट के फाइनल तक पहुंचाया था लेकिन, इस बार फैंस को उम्मीद थी कि भारत को चैंपियंस ट्रॉफी 2017 उपविजेता बनाने वाले कोहली इस बार भारतीय टीम को वल्र्ड कप जितवा देंगे, लेकिन, हुआ इसके बिलकुल उलट।