Current Crime
स्पोर्ट्स

अकमल पर प्रतिबंध कम होने से भड़के कनेरिया

जीरो टॉलरेंस पॉलिसी सिर्फ कनेरिया पर ही लागू
करांची। पाकिस्तान के पूर्व स्पिनर दानिश कनेरिया ने मैच फिक्सिंग मामले में उमर अकमल पर लगे तीन साल के प्रतिबंध को घटाये जाने पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। कनेरिया ने एक बार फिर उनके साथ धर्म के आधार पर किये जा रहे भेदभाव का मामला उठाया है। कनेरिया ने कहा कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने उमर का प्रतिबंध घटाकर 18 महीने का कर दिया है जबकि मेरे मामले में ऐसा नहीं किया गया है। साथ ही सवाल किया कि क्या जीरो टॉलरेंस पॉलिसी सिर्फ जाति के आधार पर लागू होती है। इससे पहले कनेरिया पर ईसीबी ने स्पॉट फिक्सिंग मामले में प्रतिबंघ लगाया था। अकमल पर प्रतिबंध कम करने की खबर सुनते ही कनेरिया ने ट्वीट करते हुए लिखा, क्या जीरो टॉलरेंस पॉलिसी सिर्फ कनेरिया पर ही लागू है दूसरों पर नहीं। उन्होंने कहा, मुझे पूरी जिंदगी के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया, लेकिन दूसरों को नहीं। क्या पॉलिसी सिर्फ जाति के आधार पर लागू होती है। मैं हिंदू हूं और मुझे इस पर गर्व है और यही मेरा बैकग्राउंड और मेरा धर्म है। इससे पहले उमर ने स्वीकार किया था कि सटोरियों ने इस साल पीएसएल से पहले उनसे संपर्क किया था। इस पर पीसीबी ने उन पर तीन साल के लिए प्रतिबंध लगा दिया था जिसे बाद में कम कर दिया गया है।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: