Current Crime
अन्य ख़बरें उत्तर प्रदेश ग़ाजियाबाद

जुबान संभाल के (30/10/2020)

त्यागी बोले नवनीत गुप्ता हैं बेस्ट मडंलअध्यक्ष

भगवा गढ़ में महानगर मडंल प्रशिक्षण शिविर चल रहा हैं। प्रोटोकाल तो अपेक्षित वालो के आने का हैं मगर रोक किसी पर नही हैं। जब स्टीकर लगाकर कहा जा सकता है कि मेरा घर भाजपा का घर तो फिर शिविर को भी मेरी भाजपा मेरा शिविर नारे के साथ अटैंड किया ही जा सकता हैं।अब कौन से मडंल का रिपोर्ट कार्ड कैसा रहा ये तो भगवा कमांडर की रिपोर्ट बतायेगी लेकिन भगवा त्यागी जी ने अपनी ओपनियन का करंट पहले ही दे दिया हैं वो शहर मडंल वाले ट्रेनिग कैंप में गये और जब शहर मडंल प्रधान नवनीत गुप्ता ने सोशल मीडिया पर ट्रेनिग कैम्प में आने वाले सभी काथैंक्स किया तो यहां पर प्रभारी त्यागी आ गये। उन्होने भी खुशीकाइजहार किया और लिखा कि नवनीत गुप्ता महानगर के शेष बचे आठ मडंलो में सबसे बेस्ट महामडंल अध्यक्ष हैं। फिर पीएम सीएम जिंदाबाद के साथ भगवा कमाडंंर की भी जिन्दाबाद की। लेकिन कमल वालो की तारीफ स्टोरी का करंट ही ये है कि प्रभारी ने तारीफ की और प्रभारी त्यागी भी हैं लेकिन वो प्रभारी मडंल के नही हैं और महानगर कार्यालय के प्रभारी हैं। मडंल वाले प्रभारी इतनी आसानी से तारीफ नवनीत गुप्ता की तो करने से रहे साहब।

तुझे भी मेेंबर बनायेगा परेशान मत हो भाई

भाज΄ाा वाले शहर में कुछ पर कृपा हुई तो कुछ को लग रहा है कि उन पर तो कहर ही टूट गया। जिन्हे सगंठन की सिफारिश पर सरकार ने मेंबर वाले ईनाम से नवाजा है वो ईनाम को सिर माथे लगाकर मेहनत से कामभी कर रहे हैं। लेकिन किस्से का करंट ही ये है कि उनकी गतिविधियों को लेकर कांग्रेस वाले कुछ नही कह रहे। हाथी वाले भी अपोज नही कर रहे हैं और साईकिल वालो को भी कोई दिक्कत नही हैं मगर कमल वाले तो पग पग निगाह रख रहे हैं। कभी तंज कस रहे हैं तो कभी रंज कर रहे हैंऔर शिकायते तो साईलेंटली कर ही रहे हैं। चावल चने वाले के पक्ष में जाना तो मजूंर हैं लेकिन पार्टी की मेंबर के साथ नही खड़े हो सकते। अब यहां पर शाट भी भाजपाई ने भाजपाई को लेकर भाजपाई को ही दिया। जब मेंबर की बुराई हो चुकी तो आटो वाले ट्रक वाले शायराना अदांज में बुराईकरने वाले भाजपाई को दूसरे भाजपाई ने ही कहा कि देख के उनके जलवे तू हैरान ना हो रब तुझे भी देगा परेशान ना हो। फिर समझाया कि भाई सुन ले कलपने और किलसने की भी एक सीमा होती हैं। इतनी ही टेंशन हो रही हैं तो धरना दे दे लखनऊ जाकर। ऐसे नही कलपा करते मेरे भाई।

महिला नेता बोली एसपी सिटी बहुत अच्छे हैं

विधायक का मोर्चा पुलिस को लेकर खुला। महानगर अध्यक्ष ने दरोगा वाली लिस्ट बनाई। मगर जब सियासत से एक्स हुये पडिंत को लगा कि जान को खतरा है तो उन्होने सोशल मीडिया पर गुहार लगाई। जब वो अपनी आवाज सुना रहे थे तो क्रासिंग वाली ओरेंज लेडी लीडर ने राय दी। उन्होने कहा कि आप एसपी सिटी के पास जाओ बहुत अच्छे हैं वो हमारे भाई। करंट तब आया जब राय में ये भी बता दिया कि हमारे भाई आपकी बात सुनेगें,मेरी भी सुनी थी उन्होने। यहीं से चर्चा शुरू हुई कि उनकी कौन सी बात थी जो भगवा वालो को पता नही चली और पुलिस वालो ने सुन भी ली। केसरिया नेता ने भी कहा कि राय तो ठीक हैं मगर एक्स पडिंत को नही पता कि वो तो पहले से ही अधिकारियों को फूल देकर परिचय अपडेट रखती हैं। इसके लिये ना वो किसी लेडी साथी पर डिपेंड रहती हैं और ना किसी की परमीशन चाहिये उन्हे इसके लिये।

किसी दिन चप्पल बजनी हैं तय हैं दल वालो मे

पालिटिकल शिष्टाचार को भूल चुके दल के नेताओं की हरकते अब टू मच हो चली हैं। पुराने नेता ने कहा कि सीन कभी भी संगीन हो सकता हैं। जो स्पीड पकड़ रखी हैं उससे किसी भी दिन चप्पले आपस में बजनी तय हैं।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: