Current Crime
देश

‘सैटेलाइट लॉन्च से भारत-ब्राजील के बीच मजबूत साझेदारी की शुरुआत’

 

श्रीहरिकोटा (आंध्र प्रदेश)| पृथ्वी अवलोकन उपग्रह अमेजोनिया -1 का सफल प्रक्षेपण भारत और ब्राजील के बीच साझेदारी को आगे बढ़ाने के लिए पहला कदम है। ब्राजील के विज्ञान, प्रौद्योगिकी, नवाचार और संचार मंत्री मार्कोस पोंटेस ने रविवार को यह बात कही। भारत ने रविवार की सुबह अपने रॉकेट पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल-सी 51 (पीएसएलवी-सी51) अमेजोनिया -1 के साथ सफलतापूर्वक कक्षा में स्थापित किया। यह ब्राजील द्वारा डिजाइन और निर्मित किया गया पहला उपग्रह था।
पोंटेस ने यहां भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) मिशन नियंत्रण केंद्र में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा, “हम कई वर्षो से उपग्रह पर काम कर रहे हैं। यह हमारे लिए एक महत्वपूर्ण क्षण है।
खुद एक अंतरिक्ष यात्री, पोंटेस ने कहा कि सफल प्रक्षेपण ब्राजील के उपग्रह उद्योग के लिए एक नए युग का प्रतिनिधित्व करता है।
पोंटेस ब्राजील की अंतरिक्ष एजेंसी और रूसी अंतरिक्ष एजेंसी के बीच एक साझेदारी के हिस्से के रूप में अंतरिक्ष में जाने वाला एकमात्र ब्राजील निवासी हैं।
उन्होंने कहा कि यह भारत और ब्राजील के बीच मजबूत साझेदारी को आगे बढ़ने की दिशा में पहला कदम है।
यह दोनों देशों के बीच मजबूत रिश्ते की शुरुआत है। पोंटेस ने कहा कि दोनों देश साथ मिलकर काम करेंगे और जीतेंगे।
अमेजोनिया -1 राष्ट्रीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (आईएनपीई) का ऑप्टिकल पृथ्वी अवलोकन उपग्रह है और इसे ब्राजील द्वारा निर्मित किया गया है।
इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने कहा कि अमेजोनिया-1 उपग्रह को एक सटीक कक्षा में स्थापित किया गया है और इसके सौर पैनल तैनात किए गए हैं।
सिवन ने कहा कि भारत और इसरो, ब्राजील द्वारा डिजाइन और निर्मित किए गए पहले उपग्रह को लॉन्च करने पर गर्व महसूस करते हैं।

Related posts

Current Crime
Ghaziabad No.1 Hindi News Portal
%d bloggers like this: